बारिश में योग, लखनऊ वालों ने बताया मेट के इस्तेमाल का तरीका

46
SHARE

योग से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक ओर योग के फायदे बताए वहीं वह मजाकिया अंदाज में भी दिखे। उन्होंने कहा क‌ि योग के तो बहुत फायदे हैं लेकिन योगा मैट फायदा मैंने आज लखनऊ के लोगों से सीखा। दर असल लखनऊ के रमाबाई अंबेडकर मैदान में आयोजित अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर मैदान पर लोगों की सुविधा के लिए मैट बिछाई गई थी। इसकी वजह इतनी थी कि वहां योग करने आए लोगों को किसी तरह की तकलीफ न हो। लेकिन वहां पहुंचे लोगों ने बारिश से बचने के लिये योगा मैट को न केवस बारिश से बचने के प्रयोग किया बल्कि उसको अपने साथ ले भी जाने लगे। हालांकि गेट पर मौजूद सुरक्षा कर्मियों ने उन्हें मैट घर नहीं ले जाने दी।

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लखनऊ में राज्यपाल राम नाईक, सीएम आद‌ित्यनाथ, डिप्टी सीएम केशव मौर्य, डॉ. दिनेश शर्मा सहित 51 हजार लोगों के साथ योग किया। वह काफी हल्के-फुल्के मूड में नजर आए। बता दें क‌ि बारिश से बचने के ल‌िए लोग योगा मैट को छाते की तरह लगाए ‌इस्तेमाल कर रहे थे।

इस मौके पर पीएम मोदी ने कहा, ‘युनेस्को जैसी अंतरराष्ट्रीय संस्था ने योग की खूबियों को माना है और उसे पहचान दी है। इस महत्वपूर्ण अवसर पर मैं लोगों से आग्रह करता हूं कि वो योग को अपने जीवन का हिस्सा जरूर बनाएं।’ साथ ही उन्होंने कहा कि हम भले ही योग के मास्टर या गुरु बन पाएं या नहीं लेकिन उसका अभ्यास जीवन में बहुत ही जरूरी है।’

मोदी ने कहा, ‘कभी कभी लोग मुझसे पूछते हैं कि योग का इतना महत्व क्यों हैं। मैं उन्हें बहुत ही सरल भाषा में समझाता हूं कि नमक बहुत ही सरलता से उपलब्ध होता है। लेकिन अगर खाने में ना हो तो न केवल खाने का स्वाद तो बिगड़ता ही है साथ ही स्वास्थ्य पर भी उसका असर पड़ता है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस मौके पर कहा कि हमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रति कृतज्ञ होना चाहिए। उन्होंने कहा, ‘प्रधानमंत्री मोदी ने आज हमारे देश के योग को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर जो पहचान दिलाई है उसके लिए हमें उनका आभारी होना चाहिए।’