योगी सरकार का एंटी रोमियो दल युवाओं की परेशानी का सबब: अखिलेश

14
SHARE

आज उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने बैठक के बाद मीडिया को संबोधित कर रहे थे। समाजवादी पार्टी की कार्यकारिणी की बैठक से पार्टी के संरक्षक मुलायम सिंह यादव ने किनारा कर लिया जबकि शिवपाल सिंह यादव को तो आमंत्रित भी नहीं किया गया। इसके साथ ही अखिलेश यादव ने समाजवादी पार्टी की आगे की योजना पर विस्तार से बताया। अखिलेश यादव ने कहा कि यह सरकार तो अभी कुछ कर ही नहीं रही है। आदित्यनाथ योगी की सरकार अभी तो सिर्फ झाड़ू लगाने का काम कर रही है।

इसके साथ ही आदित्यनाथ योगी का एंटी रोमियो सिर्फ युवाओं को परेशान कर रहा है। यह दल बनाकर सिर्फ युवाओं को परेशान किया जा रहा है। इसके साथ ही एक ही जाति के अधिकारी व कर्मचारी सरकार के निशाने पर हैं। उनको निलंबित किया जा रहा है।
अखिलेश यादव ने कहा कि लखनऊ में भर्ती एसिड अटैक पीडि़ता से मिलने हमारी पार्टी के लोग भी जाएंगे। इस सरकार ने मेरे शेर भी भूखे कर दिए। इसके साथ ही मुझे पांच कालीदास मार्ग पर रह रहे दो मोर की भी चिंता है। हमको उनकी ज्यादा फिक्र है। अखिलेश यादव ने कहा कि मैं महीने में एक बार मीडिया से मिलूंगा।
अब समाजवादी पार्टी की सदस्यता का कार्यक्रम 15 अप्रैल से लगातार दो महीने चलेगा। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि हम अब विधानसभावार पार्टी के प्रदर्शन की समीक्षा करेंगे। इसके साथ अखिलेश यादव को भरोसा है कि 2022 में एक बार फिर प्रदेश में उनकी सरकार बनेगी। तब सभी सरकारी बिल्डिंग में गंगाजल का छिड़ककर शुद्धिकरण करेंगे। 2022 में सरकार बनेगी तो फायर ब्रिगेड में गंगा जल डालकर सभी सरकारी कार्यालय और आप पर भी डालेंगे। शुद्धि करण का अफ़सोस नहीं है।
अखिलेश यादव ने कहा कि हम पहली कैबिनेट बैठक का इंतजार कर रहे है। जैसे मुख्यमंत्री ने कहा कि उम्र में बड़े और छोटे की कही तो यह बीच की स्थति है, उम्र में भले ही बड़े है लेकिन काम में बहुत पीछे है। बहकाने से सरकार बन जाती है, एक बार राज्यपाल राम नाईक ने कहा था कि सभी यादव बैठे है। समाजवादी शब्द हटाने पर कहा कि शब्द हटाने से सरकार और कानून नहीं चलती है। हम तो श्रवण यात्रा कराने वाले लोग है।
अखिलेश यादव ने कहा कि ईवीएम पर अगर आरोप लग रहे है तो जाँच कराने में क्या दिक्कत है। काफी संख्या में लोग एफिडेविड में लिखकर देने को तैयार है कि हमें वोट दिया गया है। हमारा कांग्रेस के साथ एलायंस है। हिमांशु कुमार आईपीएस अधिकारी है और कार्यवाही हुई है तो इस समय एक ही जाति के लोगो पर कार्यवाही हो रही है। हम भी नई सरकार को छह महीने का समय दे रहे है।