इस्‍लामाबाद में बनेगा पहला हिंदू मंदिर, सामुदायिक केंद्र, श्मशान

7
SHARE

‘द एक्सप्रेस ट्रिब्यून’ की रिपोर्ट के मुताबिक सीडीए ने राजधानी के सेक्टर एच-9 में हिन्दू मंदिर, सामुदायिक केंद्र और श्मशान भूमि के निर्माण के लिए आधा एकड़ भूखंड के आवंटन को अपनी मंजूरी दी|पाकिस्तान की राजधानी में अधिकारियों ने अपने तरह के पहले फैसले में हिन्दू मंदिर, सामुदायिक केंद्र और श्मशान भूमि के लिए भूखंड आवंटित किया|यह निर्णय हिन्दुओं की बहु-प्रतीक्षित मांगों के मद्देनजर किया गया|राजधानी विकास प्राधिकरण (सीडीए) की बैठक में यह निर्णय किया गया, जो इस्लामाबाद में विकास और नागरिक सुविधाओं की पूर्ति के लिए जिम्मेदार है|

समाचार पत्र के मुताबिक, ‘यह हिन्दू समुदाय की पुरानी मांग रही है, जो आखिरकार पूरी हो गयी|’ इस्लामाबाद में करीब 800 हिन्दू रहते हैं और मंदिर नहीं होने के कारण उन्हें दिवाली और अन्य धार्मिक त्यौहरा घरों में मनाना पड़ता है| शहर में श्मशान घाट नहीं होने के कारण उनको शवों को रावलपिंडी या अपने गृह शहर लेकर जाना पड़ता है|