कश्मीर में एनकाउंटर के विरोध में 3 की मौत, 24 जवान पथराव में घायल

44
SHARE
जम्मू-कश्मीर में सिक्युरिटी फोर्सेस जब एनकाउंटर कर रहे थे, तभी बड़ी तादाद में लोकल लोगों ने प्रोटेस्ट कर दिया। उन्होंने जवानों पर जमकर पथराव किया। इस पथराव में 24 जवान घायल हो गए। पथराव के बाद फोर्सेस की जवाबी फायरिंग में तीन लड़कों की मौत हो गई। 17 घायल हो गए।
एक पुलिस अफसर ने बताया, “सिक्युरिटी फोर्सेस ने चदूरा के पास ऑपरेशन कर रही थी। उन्होंने इलाके को घेरा हुआ था। उन्हें वहां आतंकी के होने की सूचना मिली थी।”
– “अचानक से आतंकी की तरफ से गोलीबारी होने लगी। फोर्सेस ने भी जवाबी कार्रवाई की।”
– “फायरिंग के दौरान बड़ी तादाद में प्रदर्शनकारी वहां आ गए। उन्होंने फोर्सेस पर पत्थर चलाना शुरू कर दिए।”
– फोर्सेस पर पथराव कर रही भीड़ में कई यूथ भी शामिल थे।
– हालात को संभालने के लिए फोर्स को फायरिंग करनी पड़ी। जाहिद रशीद, कैसर और इश्फाक अहमद वानी की मौत हो गई।
– जाहिद रशीद को गले में बुलेट लगी थी। वहीं, कैसर गनई भी पैलेट गन से जख्मी हुआ था। बाद में हॉस्पिटल में उसकी मौत हो गई। इस दौरान बड़गाम इलाके में बाजार बंद रहा।
– सोमवार रात शोपियां में एक पुलिस अफसर के घर गोलियां चलाई गई थीं। वहीं, गुरदासपुर की पहाड़ीपुर पोस्ट पर सोमवार को बीएसएफ जवानों ने बॉर्डर पर पाकिस्तानी घुसपैठिए को मार गिराया। रविवार को साउथ कश्मीर के पुलवामा जिले में सिक्युरिटी फोर्सेस के साथ एनकाउंटर में दो हिजबुल आतंकी मारे गए थे।
– रविवार को ही अनंतनाग जिले में पीडीपी नेता फारूक अंद्राबी के घर पर आतंकी हमला हुआ। उनकी सिक्युरिटी में तैनात एक पुलिसकर्मी के जख्मी होने और हथियार लूटे जाने की जानकारी मिली है।
– घायल पुलिसकर्मी को श्रीनगर के हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया। हमले के वक्त अंद्राबी घर में मौजूद नहीं थे। वे सीएम महबूबा मुफ्ती के करीबी रिश्‍तेदार हैं।
– आतंकी भारी हथियारों से लैस थे। गोलीबारी के बाद आतंकियों के अंद्राबी के घर में घुसने की बात बताई जा गई थी।