उत्तर प्रदेश के विकास का हम सभी को संकल्प लेना होगा: CM योगी आदित्यनाथ

63
SHARE

आज योगी आदित्यनाथ ने विधान भवन प्रांगण में ध्वजारोहण के बाद कहा कि देश को हमको विकसित तथा समृद्ध कर विश्व के अग्रणी देशों में लाना है। इसका रास्ता को उत्तर प्रदेश से ही जाता है। उत्तर प्रदेश के विकास का हम सभी को संकल्प लेना होगा। उन्होंने कहा कि क्या हम संकल्प लेंगे कि अपने जीवन का एक-एक पल दुनिया के सामने भारत को शक्ति के रूप में स्थापित करने में देंगे। सभी को अपना दायित्व समझना होगा।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि आजादी का नेतृत्व उत्तर प्रदेश से प्रारम्भ हुआ। संकल्प से सिद्धि का संकल्प लेकर आगे बढें। समृद्ध भारत और विकास का मार्ग यूपी से गुजरता है। जीवन जज्बे और जीवंतता का नाम है। हर घटना एक सबक है पुनरावृत्ति न हो। सबसे बड़ा युवा राज्य है यूपी। ग्रहण तब लगता है जब इंसेफ्लाइटिस से मासूम बच्चे काल के गाल में समा जाते हैं। मैं बार बार कहता रहा हूँ। इसका उपचार स्वच्छ भारत मिशन में छिपा है। किसानों और शिक्षा के क्षेत्र में सरकार ने कार्य किया।

एक करोड़ 52 लाख बच्चों को यूनिफार्म देने का काम करने जा रही है सरकार। विरासत से कटा हुआ समाज त्रिशंकु की तरह होता है। राम भारत की आस्था के प्रतीक हैं। अयोध्या में रामलला का मंचन शुरू हुआ। मथुरा का विकास कर रहे हैं। महिलाओ को सुरक्षा और युवाओं को रोजगार देंगे। पुलिस अपराधियों को नहीं बख्शेगी। पुरस्कार की राशि दोगुनी करेंगे। आउट ऑफ टर्न प्रमोशन देंगे।

शहीदों को स्मरण करते हुए संकल्प लें कि उत्तर प्रदेश में अब भ्रष्टाचार नहीं पनपने देंगे। उत्तर प्रदेश में अब भ्रष्टाचार नहीं होगा। उन्होंने कहा कि भारत को विकसित करना हे, समृद्ध करना है। भारत को अग्रणि देशों की कतार में रखना है। उन्होंने कहा कि इसका रास्ता उत्तर प्रदेश से होते हुए जाता है और हम सभी को इसके लिए प्रयास करने होंगे। उन्होंने वहां मौजूद लोगों से पूछा कि क्या हम संकल्प कर पाएंगे कि हम अपने जीवन का एक पल दुनिया के सामने भारत को शक्ति के रूप में स्थापित करने में देंगे।

उन्होंने कहा कि स्वतंत्रता दिवस आत्मचिन्तन करने तथा महान देशभक्तों के सपनों को पूरा करने का अवसर प्रदान करता है। भारत को विकसित करना है, भारत को समृद्ध करना है तो इसका रास्ता सिर्फ उत्तर प्रदेश से होकार गुजरता। उत्तर प्रदेश की 22 करोड़ की जनता का विकास होने से ही देश का विकास संभव है। सीएम योगी ने कहा कि आज का दिन संकल्प लेने का भी है। संकल्प एक साथ मिलकर भारत और प्रदेश की उन्नति करने का। सामूहिक शक्ति से ही सामूहिक देश का निर्माण किया जा सकता है। हमारे काम करने का मकसद किसी जाति-धर्म के ल‍िए नहीं, बल्क‍ि लोक कल्याण होना चाहिए। हम यूपी को सभी क्षेत्र में सबसे आगे देखना चाहते हैं।

योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हमें ये नहीं भूलना चाहिए कि हमे देश के संविधान के अधीन ही काम करना होगा। देश की सीमाओं की रक्षा के लिए जवानों ने अपना सब कुछ न्योछावर किया है। हमें उनकी कुर्बानी को बनाए रखना होगा। उन्होंने कहा कि हमें संकल्प लेना होगा, जिसमें 2017 से 2022 तक राज्य को देश के सर्वोत्तम प्रदेश की श्रेणी में लाना होगा। भारत आतंकवाद, जातिवाद जैसी चीजों से मुक्त हो, इसकी पहल उत्तर प्रदेश से करनी होगी. हमें एक नई दिशा देनी होगी।

उन्होंने कहा कि देश की आजादी का नेतृत्व उत्तर प्रदेश से आरंभ होता है। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश की धरती पहले संग्राम की भूमि रही है। उन्होंने कहा इस राज्य के हर व्यक्ति में देशभक्ति की भावना भरी है।मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि 1857 के संग्राम का पहला दिन हमको स्मरण करना होगा। उत्तर प्रदेश से ही देश की क्रांति का बिगुल बजा था। इसके बाद वह क्रांति देश को आजाद कराने के बाद ही रुकी।

उत्तर प्रदेश में देश के सर्वाधिक युवा हैं। आप सभी को आने वाले दिनों में नया उत्तर प्रदेश देखने को मिलेगा। उन्होंने उत्तर प्रदेश एटीएस व एसटीएफ की तारीफ करते हुए कहा कि पिछले चार महीनों में बहुत अच्छा काम किया।

सरकार ने उत्तर प्रदेश के किसानों को सीधा फसल का लाभ दिलाने के साथ ही दाम दिलाने का भी काम किया है। उन्होंने कहा कि अब उत्तर प्रदेश की व्यवस्था में जातिवाद हावी नहीं है।