टीम के स्पिनर्स ने निचले क्रम में अच्छी बल्लेबाज़ी कर हमारा काम आसान कर दिया है: विराट कोहली

7
SHARE

चेन्नई टेस्ट से पहले ही सीरीज़ टीम इंडिया के कब्ज़े में है| लेकिन वरदा तूफान की मुश्किलों के बावजूद टेस्ट के लिए टीमों के साथ चेन्नई ने कमर कस ली है. फैन्स की दिलचस्पी इस बात को लेकर भी बढ़ी हुई है कि कप्तान विराट सहित कई खिलाड़ी इस टेस्ट में रिकॉर्ड कायम कर सकते हैं|

मुंबई में मिली जीत को कप्तान विराट कोहली, टीम इंडिया और उसके फ़ैन्स लंबे समय तक याद करेंगे, लेकिन फिलहाल चेन्नई टेस्ट के लिए टीम इंडिया का फोकस एक बार फिर चेपॉक पर आ गया है| सीरीज में 3-0 से आगे चल रही टीम इंडिया स्कोर को 4-0 करने का ज़ोर लगा रही है| विराट ने एक बार फिर 5 स्पेशलिस्ट बल्लेबाज़ों के साथ मैदान पर उतरने की रणनीति का इशारा किया है|

विराट कहते हैं, टीम के स्पिनर्स ने निचले क्रम में अच्छी बल्लेबाज़ी कर हमारा काम आसान कर दिया है| आर अश्विन ने निचले क्रम में एक मानदंड-सा बना दिया है| आर जडेजा और जयंत यादव अश्विन की तरह निचले क्रम में अच्छी बल्लेबाज़ी कर रहे हैं जो टीम के लिए बेहद अहम साबित हो रहे हैं| इससे हमें 5 बल्लेबाज़ों के विकल्प
के तौर पर उतरना आसान हो जाता है|”

मेहमान टीम के स्टार गेंदबाज़ जेम्स एंडरसन का टीम में नहीं होना उनकी मुश्किल को और बढ़ा सकता है| जबकि घरेलू मैदान पर ख़ासकर आर अश्विन और मुरली विजय से बड़ी उम्मीदें की जा रही हैं| वहीं टेस्ट और वनडे में नंबर 2 और टी20 में नंबर 1 कप्तान विराट कोहली अपनी रैंकिंग से बेफ़िक्र होकर एक और बड़ी जीत की ताक में हैं|

विराट यह भी कहते हैं कि लोग उनके बारे में बातें करते हैं कि वे दुनिया के चुनिंदा 4-5 खिलाड़ियों में शामिल हैं, जो वर्ल्ड क्रिकेट को आगे बढ़ा रहे हैं तो उन्हें अच्छा लगता है, लेकिन वह ज़ोर देकर यह भी कहते हैं, मैं इस पर फोकस नहीं करता. क्योंकि इससे खेल से ध्यान बंट जाता है|

विराट कहते हैं कि टीम इंडिया अब सीरीज में 4-0 से जीत हासिल करने की कोशिश करेगी| फैन्स की नजर चेन्नई टेस्ट पर इसलिए भी बनी रहेगी कि आखिरी टेस्ट में मिली एक और जीत टीम इंडिया के साथ कप्तान विराट के लिए कई मायनों में इतिहास कायम कर सकती है|