उपेंद्र कुशवाहा पटना में आक्रोश रैली के दौरान पुलिस लाठीचार्ज में घायल

54
SHARE

पूर्व केंद्रीय मंत्री और राष्ट्रीय लोक समता पार्टी के नेता उपेंद्र कुशवाहा पुलिस लाठीचार्ज में घायल हो गए हैं। उन्हें पटना के पीएमसीएच में भर्ती कराया गया है।
उपेंद्र कुशवाहा ने बिहार में खराब शिक्षा व्यवस्था के विरोध में पटना में शनिवार 2 फरवरी को आक्रोश रैली का आयोजन किया। पार्टी कार्यकर्ताओं के मुताबिक, शिक्षा में सुधार की मांग को लेकर शनिवार को मार्च निकालकर राज्यपाल को ज्ञापन सौंपने की योजना बनाई गई थी।

पटना के जेपी गोलंबर से राजभवन तक ये मार्च निकलना था लेकिन पुलिस ने उन्हें डाक बंगला चौराहे पर ही रोक लिया और उनपर लाठियां बरसानी शुरू कर दी। पुलिस की लाठी से उपेंद्र कुशवाहा समेत कई कार्यकर्ता घायल हो गए… सभी को PMCH में भर्ती कराया गया है। उपेंद्र कुशवाहा के सिर और हाथ में चोट आई है।

आरएलएसपी ने इस हंगामे के लिए बिहार की नीतीश सरकार को जिम्मेदार ठहराया है। उपेंद्र कुशवाहा ने नीतीश सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि सरकार शिक्षा विरोधी है… इसी वजह से RLSP के आक्रोश मार्च के दौरान पुलिस से लाठियां चलवाई गईं। आरएलएसपी की तरफ से कहा गया है कि “लाठी से मारकर, हमें डरा क्यों रहे हो? कमजोर नही हैं हम, जो यूं जता रहे हो! कसम खाते हैं कि जालिम तेरी हुकूमत को हिला देंगे, जाग उठा है बिहार अब तुम्हें मिट्टी में मिला देंगे…!”
एक दूसरे ट्वीट में RLSP ने कहा, “बहुत हुआ अब अत्याचार, कुर्सी छोड़ो कुशासन कुमार.”
कुशवाहा की पार्टी आरएलएसपी ने लाठीचार्ज के विरोध में चार फरवरी को बिहार बंद का एलान कर दिया है। उधर पीएमसीएच में कांग्रेस सहित महागठबंधन के कई वरिष्ठ नेताओं ने उनसे मुलाकात की है। साफ है कि इस घटना के बाद अब बिहार की सियासत और भी गरमा गई है। पूरा विपक्ष इस मसले को लेकर नीतीश सरकार को घेरने की तैयारी में है।