उपेंद्र कुशवाहा और सुशील मोदी में छिड़ी सियासी जंग

4
SHARE

केंद्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा पर पूछे गए सवाल के जवाब में नीतीश कुमार द्वारा कथित रूप से नीच कहने के मामले ने अब उपेंद्र कुशवाहा बनाम बिहार के डिप्टी सीएम सुशील मोदी का रूप ले लिया है। दरअसल इस मामले पर अब तक नीतीश कुमार ने तो कोई सफाई नहीं दी लेकिन डिप्टी सीएम सुशील मोदी ने ट्वीट करके कहा कि नीतीश कुमार ने कभी किसी नेता के बारे ‘नीच’शब्द का प्रयोग नहीं किया है ।मैं उस कार्यक्रम में मौजूद था ।जान बूझ कर कुछ लोग शहीद बन ने की कोशिश कर रहें हैं ।परंतु उन्हें सफलता नहीं मिलेगी।

सुशील मोदी के इस ट्वीट पर उपेंद्र कुशवाहा ने कड़ी प्रतिक्रिया दी है। उपेंद्र कुशवाहा ने सुशील मोदी के ट्वीट पर जवाब देते हुए लिखा कि यदि आपकी व्याख्या में नीतीश जी के कहने का अर्थ ‘नीच’ नहीं है……..तब तो आपके अनुसार श्रीमती प्रियंका गाँधी जी के बयान का अर्थ निकालते समय भी प्रधानमंत्री जी ही गलत थे…?


एक दूसरे ट्वीट में कुशवाहा ने यह भी कहा कि.. तो लगे हाथ यह भी कह ही दीजिए……….कि #DNA वाले मुद्दा पर नीतीशे जी सही थे और प्रधानमंत्री जी गलत…….!

उपेंद्र कुशवाहा ने यह भी साफ कर दिया कि वह पीछे हटने वालों में से नहीं हैं। उन्होंने उदाहरण देते हुए कहा कि शहीद जगदेव बाबू ने कहा था “पहली पीढ़ी कुर्बान होगी और दूसरी राज करेगी। शहीद बनाने की धमकी देने वाले को पता होगा, उपेंद्र कुशवाहा दूसरी पीढ़ी का है।

उपेंद्र कुशवाहा ने जिस अंदाज में सुशील मोदी को जवाब दिया, उससे साफ है कि अब शायद उनकी ओर से कोई और सफाई आए, लेकिन बीजेपी नेता पर कुशवाहा के तीखे हमले से ये भी साफ लग रहा है कि अब बिहार की सियासत नई करवट लेने वाली है जिसमें उपेंद्र कुशवाहा की भूमिका महत्वपूर्ण होगी।