सीएम योगी के मंत्री की चुनौती, दम है तो लाल किले का नाम बदल कर दिखाएं

39
SHARE

योगी सरकार ने पिछले हफ्ते ही इलाहाबाद का नाम बदल कर प्रयागराज कर दिया। बीजेपी समर्थक इसे इस शहर के प्राचीन गौरव से जोड़ कर बता रहे हैं वहीं योगी सरकर के ही एक मंत्री ने इस बदलाव को बेकार की कवायद बता दिया है और साथ ही चुनौती दे दी है कि हिम्मत है तो लाल किले का नाम बदल कर दिखाएं।
योगी सरकार के यह वही मंत्री हैं जो अपने बयानों से लगातार बीजेपी को असहज किए रहते हैं। इलाहाबाद का नाम प्रयागराज किए जाने पर केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह के बयान पर पलटवार करते हुए योगी सरकार के कैबिनेट मंत्री ओमप्रकाश राजभर ने कहा कि अगर हिम्मत है तो लाल किले का नाम बदलकर दिखाएं। गिरिराज सिंह ने इलाहाबाद का नाम बदलने पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की सराहना की थी और कहा था कि इसी तर्ज पर बिहार के कुछ शहरों का भी नाम बदले जाने चाहिए।
गिरिराज सिंह के बयान पर प्रतिक्रिया में यूपी के मंत्री ओमप्रकाश राजभर का कहना है कि इनके पास कोई काम नहीं है, जनता का दिमाग भटकाने के लिए नाम बदलने का एक बहाना है, अगर हिम्मत है तो लाल किले का नाम बदल दें और उसे गिरा दें। उन्होंने तंज कसते हुए कहा कि जो नेता बिहार वाले (गिरिराज सिंह) बयान दे रहे हैं, वो जिस रोड पर चलते हैं उसको उनके दादा ने बनवाया है क्या? जीटी रोड शेरशाह सूरी ने बनाया है, एक नई सड़क बना कर दिखा दें, बयान देना अलग बात है।


बताते चलें कि केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने एक बयान में कहा था कि योगी जी ने इलाहाबाद का नाम बदल कर प्रयागराज करने का अच्छा काम किया है, वह धन्यवाद के पात्र हैं। उन्होंने सवाल पूछते हुए यह भी कहा था कि आपके घर पर कोई कब्जा कर ले और जब आप सामर्थ्यवान होंगे तो क्या अपने घर का नाम उसी का रहने देंगे? गिरिराज सिंह ने बिहार के बख्तिायरपुर का उदाहरण देते हुए वहां के भी शहरों के नाम बदलने की मांग की थी।