आधी – अधूरी बनी एम्बुलेंस का ही उद्घाटन करा दिया CM योगी ने

8
SHARE

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से जीवीके ईएमआरआई कंपनी ने अधूरी एडवांस लाइफ सपोर्ट (एएलएस) एंबुलेंस का उद्घाटन करा दिया। गोरखपुर समेत 6 जिलों को भेजी गईं ये एंबुलेंस उद्घाटन के बाद सीधे गैराज पहुंच गईं।

इससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि सरकार के ड्रीम प्रोजेक्ट में कंपनी ने किस कदर मनमानी की है, जबकि दो साल से यह सेवा शुरू करने की तैयारी चल रही थी। इसके बावजूद कंपनी इनमें एडवांस लाइफ सपोर्ट सिस्टम तक नहीं फिट करवा सकी।

राज्य सरकार ने गुरुवार को ही 75 जिलों के लिए 150 एएलएस एंबुलेंस सेवा लॉन्च की है। लांचिंग के 24 घंटे बाद ही कई एंबुलेंस मेंटेनेंस और उपकरण लगाने के लिए गैराज पहुंच गई हैं। कंपनी के अधिकारियों की मनमानी का आलम ये रहा कि सीएम के जिले गोरखपुर तक में अधूरी एंबुलेंस भेज दी।

गोरखपुर के लिए आवंटित एंबुलेंस में सामान डिब्बे में पैक थे। इसी तरह जालौन, अंबेडकरनगर, अमेठी, मेरठ, चित्रकूट और हरदोई की एंबुलेंस पूरी तरह खाली थी। कुछ में दिखावे के लिए एक दो उपकरण लगाए गए थे।

ऐसी ही कई गाड़ियां शुक्रवार को चिनहट स्थित जुगल किशोर मोटर्स व अन्य स्थानों में अपडेट होती रहीं। इसमें स्वास्थ्य विभाग और कंपनी के अधिकारियों की मिलीभगत का आलम ये रहा कि सीएम से एंबुलेंस के नाम पर सिर्फ गाड़ी का शुभारंभ करा दिया।

सूत्रों की मानें तो अफसरों को  जानकारी थी, लेकिन गड़बड़ी को छिपाने के लिए अधूरी गाड़ियों को सबसे पीछे खड़ा कराया गया। कई एंबुलेंस में लकड़ी के ड्रॉवर तक नहीं लगे हैं।