योगी राज में अब तेजाब विक्रेता भी सुधार जाये, जानिए क्या निर्देश जारी किए

16
SHARE

यूपी के मुख्य सचिव राहुल भटनागर ने निर्देश दिए हैं कि तेजाब विक्रेता 15 दिन के भीतर तेजाब के स्टॉक की रिपोर्ट संबंधित जिलाधिकारी कार्यालय में अनिवार्य रूप से प्रस्तुत करें। प्रशासन ने तेजाब विक्रेताओं को अपना स्टॉक दुरुस्त रखने और स्टॉक की रिपोर्ट जिलाधिकारी के सामने पेश करने के निर्देश जारी किए हैं।

उप जिलाधिकारी द्वारा निरीक्षण के समय तेजाब के स्टॉक को सही न पाए जाने पर प्रशासन द्वारा पूरा स्टाक जब्त कर लिया जाएगा और विक्रेता पर अधिकतम 50 हजार रुपये तक जुर्माना भी लगाया जा सकता है। उप जिलाधिकारी द्वारा तेजाब की दुकानों का नियमित रूप से निरीक्षण न करने तथा प्रतिमाह की सात तारीख तक गृह विभाग को तय प्रारूप में रिपोर्ट प्रस्तुत न करने पर भी नाराजगी जाहिर की है।

मुख्य सचिव ने विक्रेता द्वारा क्रेता से शासन द्वारा निर्गत फोटो वाले पहचानपत्र का अवलोकन कर उसकी प्रति भी सुरक्षित रखी जाए। उन्होंने कहा कि हर महीने की सात तारीख तक तेजाब विक्रेताओं की दुकानों का निरीक्षण करने, अनियमितताओं, कार्यवाही तथा अधिरोपित किए गए एवं वसूल किए गए जुर्माने के संबंध में सूचना गृह विभाग को भेजनी होगी।