मायावती दलितों के लिए शोषक, मुलायम सिंह के विश्वास की ज्योति को अखिलेश ने बुझा दिया

18
SHARE

केंद्रीय मंत्री उमा भारती जैन समाज के यति सम्मेलन में शामिल होने अपने संसदीय क्षेत्र झांसी आईं केंद्रीय मंत्री ने बसपा और सपा पर जमकर भड़ास निकाली।

उमा भारती ने कहा कि अब केंद्र में मोदी और प्रदेश में योगी की सरकार है। अब अगर विकास नहीं हुआ तो जिम्मेदारी मुझे लेनी पड़ेगी। अभी दो साल हैं, जिसमें विकास के सभी वादे पूरे करूंगी।

जैन समाज के यति सम्मेलन में शामिल होने अपने संसदीय क्षेत्र झांसी आईं केंद्रीय मंत्री ने पत्रकारों से बातचीत में बसपा से निकाले गए नसीमुद्दीन द्वारा मायावती पर लगाए गए आरोपों पर कटाक्ष किया। उन्होंने कहा कि बाबा साहब भीमराव अंबेडकर, जगजीवन राम, काशीराम समेत अनेक नेताओं ने दलित समाज के उद्धार के लिए अनेक काम किए लेकिन, मायावती दलितों के लिए शोषक की भूमिका ही निभाती रहीं।

सपा को भी इसी तराजू पर रखते हुए उमा भारती ने कहा कि दोनों दलों में विकास की अवधारणा नहीं है। वे वोट समीकरण से चुनाव जीतने का घमंड रखते हैं। सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव पर नरमी दिखाते हुए उमा भारती ने कहा कि मुलायम सिंह के प्रति लोगों में विश्वास की ज्योति जग रही है लेकिन, अखिलेश यादव ने इसे बुझा दिया।