आज बाबरी केस में आडवाणी, जोशी और उमा की पेशी

40
SHARE

मंगलवार को अयोध्या में बाबरी मस्जिद ढहाए जाने के केस में सीबीआई की स्पेशल कोर्ट लाल कृष्ण आडवाणी, सांसद मुरली मनेाहर जोशी, उमा भारती, विनय कटियार, साध्वी ऋतंभरा और विष्णु हरि डालमिया समेत 13 नेताओं के खिलाफ आरोप तय कर सकती है। इन नेताओं पर बाबरी ढांचा ढहाए जाने की साजिश रचने का आरोप है। कोर्ट ने सभी नेताओं को सुनवाई के दौरान मौजूद रहने को कहा है।

इस मामले में 25 मई को महंत नृत्य गोपाल दास, महंत राम विलास वेदांती, बैकुंठ लाल शर्मा उर्फ प्रेमजी, चंपत राय बंसल, धर्मदास और डॉ. सतीश प्रधान के खिलाफ आरोप तय नहीं हो सके थे। हालांकि लेकिन सतीश प्रधान को छोड़कर इनमें से कोई भी कोर्ट में हाजिर नहीं था। कोर्ट ने इन लोगों को भी आरोप तय के वक्त मौजूद रहने को कहा था।

सभी आरोपियों को सीबीआई के विशेष कोर्ट में हाजिर होना होगा। लखनऊ में कोर्ट में पेशी के लिए लालकृष्ण आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी अपने घर से निकल चुके हैं।

कोर्ट ने कहा था कि 30 मई को सुनवाई के दौरान इन आरोपियों की ओर से दायर की गई कोई भी एप्लीकेशन मंजूर नहीं की जाएगी। क्योंकि सुप्रीम कोर्ट की गाइडलाइंस के मुताबिक दो महीने के अंदर आरोपियों के खिलाफ आरोप तय करने हैं। कोर्ट अयोध्या में विवादित ढांचा ढहाये जाने से जुडे़ दो अलग अलग मामलों की सुनवाई कर रही है।