जम्मू कश्मीर में 70 किमी पैदल चलकर मां की अर्थी लिए घर पहुंचा जवान

3
SHARE

प्रशासन की ओर से कोई मदद न मिलने के कारण जम्मू कश्मीर में एक जवान की मां के शव को अंतिम संस्कार के लिए पांच दिन का इंतजार करना पड़ा| जम्मू कश्मीर के तंगधार में लगभग 8 लोगों की एक टीम ने जवान की मां के शव को लेकर बर्फ के बीच 70 किलोमीटर पैदल तय किए, लेकिन प्रशासन की ओर से इनकी कोई मदद नहीं की गई|

हालांकि सेना की उत्तरी कमान की ओर से इस पूरे मामले पर पक्ष रखते हुए कहा गया है कि जवान की मां के शव को पहुंचाने के लिए मौसम और बर्फ के हालातों का ध्यान रखते हुए शव को ले जाने के लिए सेना की यूनिट्स की ओर से सभी प्रकार की संभव सहायता उपलब्ध कराई गई थी|

इससे पूर्व मिली जानकारी के मुताबिक करनाह इलाके के रहने वाले एक जवान की मां सकीना बेगम को दिल का दौरा पड़ा जिसके कारण 29 जनवरी को पठानकोट के आर्मी हॉस्पिटल में उनका देहांत हो गया|