उत्तर प्रदेश में चोटी काटने की घटनाओं से सनसनी

143
SHARE

उत्तर प्रदेश में चोटी काटने की घटनाओं से सारे इलाके में सनसनी फैल रही है, पुरे प्रदेश में कई घटनाओं से चर्चा का माहौल है|

पीलीभीत में बीते 24 घंटे में चोटी कटने की तीन घटनाओं से सनसनी फैली है। शहर के बाद अब ग्रामीण इलाके में दो जगह पर चोटी कटने से महिलाएं दहशत में हैं। पीलीभीत के थाना सेहरामऊ उत्तरी के ग्राम दुर्जनपुर निवासी लतारानी पत्नी श्रीदेव के रात में सोते वक्त कटी चोटी। उनकी चोटी करीब एक इंच कटी है। साथ थाना माधोटांडा के ग्राम पिपरिया संतोष निवासी रुवी पुत्री रामप्रसाद की भी रात में सोते वक्त कटी चोटी।

बरेली के किला क्षेत्र के हुसैनबाग क्रासिंग के पास एक महिला मैना की सोते वक्त चोटी कटी, पति रियाज प्लम्बर का काम करता है। सुबह सात बजे सोकर उठी तो सिर पर बाल नहीं मिले। उनकी खटिया के नीचे फर्श पर दिखी काटी गयी चोटी। कटे बाल देखने के बाद मैना बेहोश हो गईं। इसके बाद उनके घर में मजमा लगा है।

बस्ती जनपद के दुबौलिया थाना क्षेत्र के बरिदियाकुंवर गांव निवासी अनुज गौड़ की पुत्री 17 वर्षीय सुंदरी गौड़ कल रात में घर की छत पर सो रही थी। करीब 11 बजे बजे उसकी चोटी कट गई। अचानक वह जाग गई और चिल्लाने लगी। आवाज सुनकर परिवार के सदस्य पहुंचे तो वह कांप रही थी। उसके बाद वह बेहोश हो गई। शोर सुनकर गांव के लोग भी पहुंच गए। गांव में दहशत का माहौल है। सुंदरी रह रहकर बेहोश हो जा रही है। उसे अस्पताल ले जाया गया है। अभी तक उसे पूरी तरह होश नहीं आया है।

रामपुर के शाहबाद छेत्र में दो महिलाओं की चोटी कटी। इसके बाद दोनों महिलाओं की हालत बिगड़ी। परिवार के लोगों ने अस्पताल मे भर्ती कराया। बीती रात छेत्र के ग्राम रेवड़ी कला में रामस्वरूप की पत्नी पूरन देवी की किसी ने चोटी काट ली। सवेरे चार बजे जब उसने अपनी चोटी कटी देखी तो वह बेहोश हो गई। दूसरी घटना ग्राम चतरपुर की है। यहां भूरे शाह की पत्नी नफीसा की रात में चोटी कट गई। नफीसा की हालत बिगड़ी तो परिजनों ने उसे सीएचसी में भर्ती कराया है। कल मिलक तहसील क्षेत्र मे दो महिलाओं की चोटी कटी थी।

कन्नौज में कल देर रात से आज सुबह तक चार महिलाओं की फिर चोटी कट गई। इसके बाद से तीन महिलाएं बेहोश हैं। उनको जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। इत्रनगरी में महिलाओं की चोटी काटने के मामले बढऩे लगे हैं। कल देर रात ठठिया थानाक्षेत्र के मन तोखा मोहल्ले में रामस्वरूप की पत्नी सियादुलारी की चोटी कटी मिली। इससे सभी डर गए। यहां घर के बाहर रंग की थाप लगाकर आसपास घरों तक टोटका किया गया।

इसी तरह इंदरगढ़ थानांतर्गत बरसाती डेरा निवासी विशंभर की पत्नी मीना देवी चोटी कटने से बेहोश हो गईं। मेडिकल कालेज में भर्ती कराया गया। सीओ तिर्वा मोनिका यादव ने पूछताछ की तो वह कुछ बता नहीं सकी। वहीं, सौरिख थानांतर्गत चपुन्ना के एरहो गांव में सावित्री पत्नी देवेन्द्र सिंह की चोटी किसी ने काट ली तो वह बेहोश हो गईं।

चौथी घटना गुरसहायगंज के समधन इलाके में हुई। यहां राजू कठेरिया की पत्नी पूजा कठेरिया की चोटी कटी मिलने से दहशत फ़ैल गई। वह घर के बाहर लेटी थी। रात में घटना को अंजाम दिया गया। बेहोशी हालत में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर भर्ती कराया गया।

डीएम जगदीश प्रसाद ने बताया की यह घटनाएं सिर्फ अफवाह फैलाने वालों का काम हैं। संभव है कुछ शरारती तत्व इसमें शामिल हों। खुफिया और स्थानीय पुलिस के साथ समाज के बुद्धिजीवियों को लगाया गया है। इस मामले में जल्द सच सामने आएगा।