प्रतापगढ़ में पुलिस की एकतरफा कार्रवाई से क्षुब्ध महिला ने बेटे के साथ आग लगाई, मौत

105
SHARE

प्रतापगढ़ के कंधई थाना क्षेत्र के पूरे पांडेय गांव में पुलिस की एकतरफा कार्रवाई से क्षुब्ध महिला घर के अंदर बेटे के साथ जिंदा जल मरी। धुआं उठते देख परिवारीजन ने जब तक दरवाजा तोड़ा, महिला की मौत हो चुकी थी, झुलसे मासूम बेटे ने जिला अस्पताल में दम तोड़ दिया। पुलिस का कहना है कि आरोप की जांच होगी।

रामदेव और उनकी पत्नी सबसे छोटे बेटे जयप्रकाश के साथ रहते हैं। सोमवार दोपहर 12 बजे रामदेव घर में खाना खा रहे थे, तभी बंशीलाल की पत्नी, बेटी, दामाद, बहू रेखा पहुंची और उसे (रामदेव को) मारने लगी। जयप्रकाश ने बीचबचाव किया तो सभी उससे भी भिड़ गए। इसी बीच बंशीलाल, उसके पुत्र लालजी भी पहुंच गए। लालजी के फोन करने पर पहुंची 100 डायल पुलिस जय प्रकाश को हिरासत में लेकर थाने चली गई। बंशीलाल व उसके परिवारीजन को छोड़ दिया।

पुलिस की इस एकतरफा कार्रवाई की शिकायत लेकर दोपहर सवा दो बजे रामदेव, जयप्रकाश की पत्नी मंजू और परिवार की अन्य महिलाएं प्रधान के घर जा रही थी। मंजू छोटे बेटे प्रियांशु (2) को लेकर घर लौट आई। कमरे में जाकर दरवाजा बंद कर लिया और बेटे समेत खुद को आग के हवाले कर दिया। एएसपी पश्चिमी बसंत लाल ने कहा कि यदि पीडि़त परिवार, पुलिस पर आरोप लगा रहा है और जांच में किसी तरह की लापरवाही सामने आती है तो दोषी पर कार्रवाई की जाएगी।