सिगरेट पीने से किया मना तो तीन युवकों ने दिव्यांग को चलती ट्रेन से फेंका

21
SHARE

चंडीगढ़ के नजदीक ट्रेन में एक दिव्यांग व्यक्ति को तीन लोगों ने कथित तौर पर पीटा और उसे चलती ट्रेन से फेंक दिया. इससे पहले पीड़ित ने उन्हें सिगरेट पीने से मना किया था.

हरियाणा के फरीदाबाद के रहने वाले उपेंद्र प्रसाद (45) चंडीगढ़ रेलवे स्टेशन ट्रेन में सवार हुए थे. उन्हें दिल्ली स्टेशन पर उतरना था और फिर राष्ट्रीय राजधानी के बाहरी इलाके में स्थित अपने गृह नगर जाना था.

राजकीय रेलवे पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, प्रसाद ने अपनी शिकायत में कहा है कि वह चंडीगढ़ केरल संपर्क क्रांति एक्सप्रेस के दिव्यांग कोच में सवार हुए थे. इसी कोच में शारीरिक तौर पर पूरी तरह सक्षम तीन व्यक्ति भी सफर कर रहे थे. उनकी उम्र 20 से 24 साल के बीच है.

अंबाला कैंट के जीआरपी के थानाधिकारी राज बच्चन ने शिकायत के हवाले से कहा कि ट्रेन के चलने पर उन व्यक्तियों ने धूम्रपान करना शुरू कर दिया और प्रसाद ने इसका विरोध किया. इससे क्रोधित होकर उन्होंने उससे अपशब्द कहे तथा लात एवं घूंसे मारे.

उन्होंने कहा कि व्यक्तियों ने प्रसाद का पर्स, मोबाइल छीन लिया तथा उसका गला घोंटने की कोशिश की. जब ट्रेन चंडीगढ़ से करीब 25 किलोमीटर दूर मॉडल टाउन पहुंची तो उन्होंने उसे ट्रेन से फेंक दिया.