सुप्रीम कोर्ट ने किसानों की आत्महत्या को गंभीरता से लेते हुए RBI को जांच का जिम्मा सौंपा

12
SHARE

शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट ने सूखे की वजह से बर्बाद हुयी फसल और फिर बैंक कर्ज न चुका पाने की स्थिति में सैकड़ों किसानों की आत्महत्या को गंभीरता से लेते हुए भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) को देश भर में किसान आत्महत्या की वजह तलाशने की जांच का जिम्मा सौंपा गया है। साथ ही कोर्ट ने राज्यों, संघ शासित प्रदेशों और केंद्र सरकार से मामले में प्रतिक्रिया दाखिल करने को कहा है|

मामले की सुनवाई कर रही मुख्य न्यायाधीश जेएस खेहर और एन.वी. रमन वाली बेंच ने मामले में चार हफ्तों में जवाब दाखिल करने का आदेश दिया है। कोर्ट ने जोर देते हुए कहा कि देश में किसानों की मौत एक जनहित से जुड़ा संवेदनशील मामला है। जिसमें पूरे देश का किसान समुदाय शामिल हैं। याचिका को ‘सिटिजन्स रिसोर्स एडं एक्शन एडं इनिसिएटिव’ एनजीओ की ओर से दाखिल किया गया था|

गौरतलब है कि पिछले कई वर्षों से देश भर से लगातार किसानों की आत्महत्या की सूचनाएं आ रही हैं। इनमें महाराष्ट्र का विदर्भ क्षेत्र सबसे ज्यादा प्रभावित रहा। जहां सूखे की वजह से बर्बाद हुयी फसल और फिर बैंक कर्ज न चुका पाने की स्थिति में सैकड़ों किसानों ने आत्महत्या का कदम उठाया। विदर्भ के किसानों की मदद के लिए नाना पाटेकर, अक्षय कुमार जैसे अभिनेता सामने आए। जिसके बाद मामले ने जोर पकड़ा|