शाहजहांपुर के प्रेमी का सिर मुंड़वाने का मामले, तीन सिपाही निलंबित, जांच के आदेश

11
SHARE

शाहजहांपुर में पुलिस के सामने कुछ लोगों ने युगल को पकड़ कर प्रेमी का सिर मुंड़वा दिया। इस मामले में पुलिस के तमाशबीन बने रहने को एसपी ने गंभीरता से लिया और तीन सिपाहियों को निलंबित कर दिया।

यह घटना 22 मार्च की बताई जा रही है, जिसका वीडियो कल सामने आने पर पुलिस अधीक्षक ने तीन सिपाहियों को निलंबित कर दिया है। लापरवाही बरतने पर एक इंस्पेक्टर व दो दारोगाओं के खिलाफ विभागीय जांच शुरू हो गई है।

करीब एक हफ्ते पहले अजीजगंज पुलिस चौकी क्षेत्र अंतर्गत साउथ सिटी कॉलोनी के निकट युवक-युवती बैठे थे। जिसे कुछ लोगों ने पकड़ लिया। भीड़ ने युवक का सिर मुंड़वाने का तुगलकी फरमान जारी कर दिया। एंटी रोमियो अभियान चलने के बावजूद युवक-युवती की हरकतों को हठधर्मिता बताते हुए सिर मुंड़वाने लगे। इसकी जानकारी पर कांस्टेबल सोनू, सुहेल एवं लईक मौके पर पहुंचे। उन्होंने भीड़ को रोकने की कोशिश तक नहीं की। वह तीनों भी इस मौके पर तमाशबीन बने रहे। संबंधित चौकी प्रभारी ने भी मामले को दबा दिया।

इस मामले का वीडियो कल उच्च अधिकारियों तक पहुंचा तो पुलिस अधीक्षक केबी ङ्क्षसह ने तीनों सिपाहियों को निलंबित कर दिया। कार्यवाहक प्रभारी ने भी कम गुल नहीं खिलाय। अजीज गंज पुलिस चौकी पर तैनात कार्यवाहक प्रभारी दारोगा सर्वेश मिश्रा ने मामले को दबाने के लिए पीडि़त युवक का ही शांति भंग में चालान कर दिया। अगले दिन अवकाश से लौटे अजीजगंज पुलिस चौकी प्रभारी गुड्डू ङ्क्षसह भी घटना से अनभिज्ञ रहे। उनकी मॉनीटिङ्क्षरग करने में तत्कालीन इंस्पेक्टर केके चौधरी के स्तर पर भी चूक हुई। तीन दिन पहले इंस्पेक्टर का दूसरे थाने में ट्रांसफर हो गया। इस घटना का वीडियो सामने आने के बाद तीनों के खिलाफ भी विभागीय जांच शुरू कर दी गई है।

इसकी जानकारी हुई तो कांस्टेबल सोनू, सुहेल एवं लईक मौके पर जा पहुंचे। तीनों सिपाहियों के सामने भीड़ हद से गुजर गई लेकिन इन्होंने रोकने की कोशिश नहीं की। मामला मीडिया में आने पर बात अधिकारियों तक जा पहुंची।

पुलिस अधीक्षक केबी सिंह ने मामले को काफी गंभीरता से लिया और तमाशबीन तीनों सिपाहियों को निलंबित कर दिया।