वाराणसी में घरेलू कलह पर बेटे ने मां की आंखों में कैंची घोंपी, दोनों आंखें बेकार

70
SHARE

गुरुवार को वाराणसी के सारनाथ क्षेत्र में घरेलू कलह पर बेटे ने अपनी मां की आंखों में कैंची घोंप दी। गंभीर रूप से जख्मी मां को डीडीयू अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस ने क्रूर हरकत करने वाले बेटे को गिरफ्तार कर लिया है।

कश्मीर में तैनात सैन्यकर्मी श्याम नारायण गुप्ता का सारनाथ थाना क्षेत्र में चंद्रा चौराहा-बलुआ रोड, आशापुर स्थित आनंद नगर कालोनी में मकान है। यहां पर पत्नी सुमन व बेटे चंदन व सीमांत रह रहे थे। बीए पास चंदन की दो वर्ष पूर्व मोहम्मदाबाद, गाजीपुर की सरोज से शादी हुई थी। आए दिन होने वाले घरेलू कलह के बीच चंदन व उसकी पत्नी सरोज में नहीं बनी जिसके कारण कुछ माह बाद ही तलाक हो गया।

पुलिस को चंदन ने पूछताछ में बताया कि तलाक के बाद भी अक्सर मां सुमन उसे पत्नी को लेकर ताना देती थी। आए दिन पड़ोसी भी मां की शह पर उस पर तंज कसते थे। बुधवार को पड़ोसी विपिन सीताराम ने भी ताना मारा जिसका विरोध करने पर मारपीट हुई। गुरुवार को वह घर की छत पर था कि मां ने उसे फिर ताना मारा। चंदन ने मां से कहा भी कि जब उसका तलाक हो चुका है, फिर क्यों सरोज को लेकर ताने दे रही हो।

चंदन के अनुसार मां फिर भी उसे बोले जा रही थी जिससे उससे गुस्सा आ गया और उसने आवेश में मां की दोनों आंखों में कैंची घोंप दी। बेटे के इस अप्रत्याशित कदम से लहूलुहान बदहवास सुमन गुप्ता भागने लगी और छत से नीचे गिर पड़ी।

पड़ोसियों की नजर पड़ी तो उन्होंने पुलिस को सूचना देने के साथ ही चंदन को दौड़ा लिया। चंदन भागकर आशापुर पुलिस चौकी पहुंच गया। उधर, चौकी प्रभारी शैलेंद्र सिंह को इसकी जानकारी हो चुकी थी। चंदन को हिरासत में लेने के साथ ही शैलेंद्र सिंह मौके पर पहुंचे और सुमन गुप्ता को डीडीयू अस्पताल ले गए।

डीडीयू अस्पताल में सुमन गुप्ता का प्राथमिक उपचार करने वाले डा. आरके गुप्ता ने बताया कि दोनों आंखें बेकार हो गई है। दिमाग तक गहरा घाव हो गया है। हालत को देखते हुए बीएचयू के लिए रेफर कर दिया गया है।