यूपी सरकार की जाली वेबसाइट बनाकर अयोध्या मुद्दे पर फर्जी अभियान चलाया

32
SHARE

यूपी सरकार की जाली वेबसाइट पर अयोध्या में राम मंदिर बनाने को लेकर पब्लिक ओपिनियन पोल कराया जा रहा है। खबर के मुताबिक एक फर्जी वेबसाइट http://ayodhya-issue.gov-up.in/ पर राम मंदिर बनाए जाने को लेकर जनता की रायशुमारी करा रही है। फर्जी वेबसाइट के इस पोल में भारी तादात में लोगों ने राम मंदिर को लेकर अपना मत दर्ज कराया है। फर्जी वेबसाइट पर दिखाया गया पोल अंग्रेजी में है और पेज पर यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की तस्वीर भी लगी है। पोल का शीर्षक ‘अयोध्या इश्यू- पब्लिक ओपीनियन पोल’ रखा गया है। मंदिर बनाए जाने को लेकर पोल में चार विकल्प दिए गए हैं।

1. राम मंदिर को जितने जल्दी हो सके राम जन्मभूमि वाली जगह पर बनाया जाना चाहिए। मस्जिद को कहीं भी बनाया जा सकता है।

2. राम मंदिर और नई मस्जिद को अगल-बगल बनाया जाना चाहिए।

3. बाबरी मस्जिद को उसी की जगह बनाया जाना चाहिए और राम मंदिर को उसके पास में ही बनाया जाना चाहिए।

4. राम मंदिर के लिए लोगों की भावनाओं को अलग रखकर कानून के मुताबिक सुप्रीम कोर्ट को फैसला करना चाहिए।

पोल के नियमों के मुताबिक इन चार विकल्पों में से कोई भी भारतीय नागरिक अपना विकल्प चुन सकता है। वोट करने के लिए नागरिकता और आयु वाले विकल्प में जानकारी मांगी जाती है।

फर्जी वेबसाइट के पेज पर सुप्रीम कोर्ट द्वारा दी गई सलाह का अंग्रेजी में संदेश भी लगा हुआ है। जिसमें कहा गया है कि सुप्रीम कोर्ट ने 21 मार्च को पाया कि अयोध्या विवाद सभी पार्टियों की सौहार्दपूर्ण मीटिंग से आपसी सहमति बनाकर सुलझाना चाहिए। यह प्लेटफॉर्म आम जनता को अपने विचार रखने के लिए मौका देता। ताकि एक आमराय बन सके और मसले का हल निकाला जा सके।