पूर्वमंत्री की चाबुक वाली बेटी की गिरफ्तारी पर हाईकोर्ट ने रोक लगाई

48
SHARE

हाईकोर्ट ने पूर्व मंत्री हाजी याकूब कुरैशी की बेटी आसमां की गिरफ्तारी पर रोक लगा दी है। आसमां पर स्कूल में घुसकर अध्यापकों, स्टाफ व छात्राओं को हंटर से मारने का आरोप है। आरोपी ने याचिका दाखिल कर गिरफ्तारी पर रोक लगाने की मांग की थी। याचिका पर न्यायमूर्ति आरडी खरे और न्यायमूर्ति आरएन कक्कड़ की खंडपीठ ने सुनवाई की।

याची के अधिवक्ता अनूप त्रिवेदी का कहना था कि वायरल वीडियो से यह साबित नहीं है कि याची ने हंटर से मारा है। वास्तव में ऐसी कोई घटना नहीं हुई थी। स्कूल के गार्ड ने आसमां को धक्का मारा था। परिवारीजन इसकी शिकायत करने प्रिंसिपल के पास गए थे लेकिन, प्रिंसिपल मिले नहीं। अगले दिन उन्होंने याची और उसके परिवारीजन के खिलाफ मेरठ के सदर बाजार थाने में मुकदमा दर्ज करा दिया। पुलिस ने नामजद लोगों को गिरफ्तार करने के लिए कई बार दबिश दी।

मेरठ के व्यापारी तारा चंद्र शास्त्री का मेरठ पब्लिक स्कूल है। बसपा सरकार में मंत्री रहे हाजी याकूब कुरैशी की बेटी और बच्चे इसी स्कूल में पढ़ते हैं। याची का कहना था कि उसके पिता बसपा सरकार में मंत्री रहे हैं। सांसद का चुनाव भी लड़े थे। उनको राजनीतिक विद्वेष में फंसाया गया है। जिसके बाद कोर्ट ने इस मामले में आरोप पत्र दाखिल होने तक गिरफ्तारी नहीं करने का निर्देश दिया है।