बुजर्ग महिला नें दिया प्रधानमंत्री को बिटिया की शादी में आने का न्यौता

32
SHARE

प्रधानमंत्री आवास योजना का स्वीकृति पत्र मिलते ही बुजुर्ग रामरती बड़ी मासूमियत और अधिकार भाव से प्रधानमंत्री को न्यौता दिया। कहा, ‘अब बच्चों की शादी हो सकेगी.. बिटिया की शादी में आइएगा जरूर मोदी जी!’ रामरती मानो प्रधानमंत्री से आश्वासन लेकर ही मंच छोड़ना चाहती थी, इसलिए कुछ देर के लिए कौतूहल पैदा हो गया। पीएम मुस्कुराए और बड़ी सहजता से इस बुजुर्ग के सामने तीन बार झुककर प्रणाम कर बोले, ‘अब जाओ अम्मा।’

खुद पीएम ने अपने भाषण में रामरती के निमंत्रण का जिक्र किया। बोले, ‘एक आवास पाकर गरीब मां की आंखों में खुशियां चमक रही थीं। उन्होंने मुझसे कहा कि घर बनने के बाद मेरे बच्चों की शादी हो जाएगी। ’ 1डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम प्राविधिक विश्वविद्यालय (एकेटीयू) में प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत दस लाभार्थियों को स्वीकृति पत्र दिए गए। सभी के भाव रामरती की तरह थे। गोसाईंगंज में रहने वाली रामरती ने बातचीत में कहा, उनकी बेटी व बेटों की शादी मकान न होने के कारण नहीं हो पा रही थी।दूसरी लाभार्थी ललिता, कैलाशा, दिव्यांग रामावती, मुन्नी व रीना भी पीएम से आवास का स्वीकृति पत्र पाकर खुश थीं।

पीएम को बेटी की शादी में आने का निमंत्रण देने वाली रामरती ने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने गरीबों का भला नहीं किया। असली काम तो गरीबों के लिए मोदी जी कर रहे हैं।

गोसाईंगंज के गौरियाकला में रहने वाली अफसाना के पति शेरा मजदूरी कर घर का पेट भरते हैं। इनके तीन बच्चे हैं। ऐसे में घर बनना मुश्किल था। अफसाना ने कहा मोदी जी कभी भेदभाव नहीं करते वह गरीबों के मसीहा हैं। गोसाईंगंज की रामरती ने पीएम को बिटिया की शादी का दिया न्योता पीएम तीन बार झुककर प्रणाम कर बोले अब जाओ अम्मा