प्रसाद के साथ नोट बाटने पर स्वाति सिंह ने दी सफाई, भाजपा को बदनाम करने की साजिश

205
SHARE

बीयर बार के उद्घाटन मामले के बाद योगी सरकार की राज्यमंत्री स्वाति सिंह एक बार फिर विवादों में घिर गईं। मंगलवार को सोशल मीडिया पर स्वाति सिंह की भंडारे के प्रसाद के साथ पैसे बांटने की तस्वीर वायरल हो गई। योगी सरकार में महिला और समाज कल्याण विभाग की राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) स्वाति सिंह ने पैसे बांटने के आरोपों पर सफाई देते हुए मामले में नाराजगी जताई है। भंडारे में पैसे बांटने के आरोपों से खफा मंत्री स्वाति सिंह ने कहा कि उन्होंने बड़े मंगल पर आयोजित भंडारे में उन नौ कन्याओं को पैसे दिए, जिन्हें प्रसाद ग्रहण कराया था न कि खुले तौर पर सभी लोगों को पैसे बांटे गए। उनकी की तरफ से वह फोटो भी जारी की गई है, जिसमें वह कन्याओं को प्रसाद का थाल दे रही हैं। उन्होंने बताया कि भंडारे के समय उन्होंने सात कन्याओं को भोजन कराया और उन्हें हिंदू मान्यताओं के अनुसार प्रसाद के साथ सौ-सौ रुपये दान किए। बता दें कि बड़े मंगल पर लखनऊ के गोमतीनगर में स्वाति सिंह ने भी एक भंडारा आयोजित किया था, जिसमें उन्होंने खुद पूड़ी-सब्जी बांटी थी।इस पूरे प्रकरण में भारतीय जनता पार्टी को साजिश की बू नजर आती है। महानगर भाजपा के एक पदाधिकारी का कहना है कि जिस तरह पहले रेस्टोरेंट को बीयर बार बताकर विवाद खड़ा हुआ और अब भंडारे में पैसा बांटने की अफवाह उड़ी, साफ जाहिर है कि कुछ लोग स्वाति सिंह को बदनाम करने के लिए अभियान चला रहे हैं। बीजेपी महानगर ने बाकायदा वीडियो जारी कर भंडारे में पैसा बांटने की बात का खंडन किया है।