लखनऊ में छात्र ने हाथ पर सुसाइड नोट लिखा और फांसी लगा ली

72
SHARE

गेम खेलने से रोकने पर एलडीए कॉलोनी कानपुर रोड निवासी सीएचसी उतरेटिया में तैनात मनीष पुरी के बेटे आदित्य आनंद (17) ने फांसी लगाकर जान दे दी।

आदित्य के चाचा रवीश ने ब्लू व्हेल गेम खेलने की आशंका जताई है। पर पुलिस के मुताबिक छात्र के शरीर पर किसी प्रकार के निशान नहीं मिले हैं।

मनीष के मुताबिक आदित्य 10वीं का छात्र था और हजरतगंज स्थित कोचिंग सेंटर में पढ़ाई करता था। करीब एक माह से आदित्य लगातार मोबाइल फोन में गेम खेलता रहता था। बेटे को हमेशा गेम खेलता देख परिवारीजनों ने विरोध किया।

रवीश के मुताबिक करीब एक सप्ताह पूर्व मनीष ने ब्लू व्हेल गेम खेलने की आशंका के कारण आदित्य से मोबाइल फोन छीन लिया था। इसके बाद से आदित्य परेशान रहने लगा था और मंगलवार देर शाम उसने अपने कमरे में फांसी लगा ली।