दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी और किसी को भी बख्शा नहीं जाएगा: केशव प्रसाद मौर्य

97
SHARE

रामपुर में दो लड़कियों के साथ छेड़खानी कर उसका वीडियो वायरल किये जाने की घटना को यूपी सरकार ने बेहद गंभीरता से लिया है. यूपी के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने इस मामले में दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी और किसी को भी बख्शा नहीं जाएगा. उनके मुताबिक़ रामपुर और इस तरह की दूसरी घटनाओं में अब दोषियों के खिलाफ बेरहमी से पेश आया जाएगा और उन्हें ऐसा करारा सबक सिखाया जाएगा, जिससे वह दोबारा ऐसी हरकत नहीं कर सकेंगे.

इलाहाबाद में मीडिया से बात करते हुए केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि यूपी में क़ानून व्यवस्था पूरी तरह काबू में हैं. अपराध में पहले के मुकाबले कमी आई है. जो छिटपुट घटनाएं हो भी रही हैं, उन पर सरकार की पैनी नजर है और हरेक मामले को गंभीरता से लेते हुए सभी में कड़ी कार्रवाई की जा रही है.

यूपी के पूर्व मंत्री आजम खान द्वारा महिलाओं को घर में ही कैद रहने की नसीहत पर केशव मौर्य ने सीधे तौर पर कोई टिप्पणी करने से मना कर दिया. उन्होंने कहा कि विपक्षी पार्टियां बेवजह हल्ला मचा रही हैं. केशव मौर्य ने केरल की घटना पर अफसोस जताते हुए कहा कि यह देश के बहुसंख्यक समुदाय को चिढ़ाने की कोशिश है. कांग्रेस पार्टी को अपनी इस करतूत के लिए देश से माफी मांगनी चाहिए. उन्होंने यह भी कहा कि जनता कांग्रेस को इस बारे में मुंहतोड़ जवाब देगी.

भारतीय जनता पार्टी ने विपक्षी दलों पर आरोप लगाया कि वे उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार की छवि खराब करने के लिए दुष्प्रचार कर रहे हैं. बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष और उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि बीएसपी और एसपी जैसी विपक्षी पार्टियां दुष्प्रचार कर रही हैं और राज्य की कानून व्यवस्था की स्थिति के बारे में अफवाह फैला रही हैं.

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार अपराध नियंत्रण के लिए दृढ़ संकल्पित है. उन्होंने साथ ही आरोप लगाया कि विपक्षी दल माहौल बिगाड़ने की कोशिश कर रहे हैं. मौर्य ने कहा कि विपक्षी दल चुनावी हार से बौखलाये हुए हैं और बीजेपी सरकार की छवि खराब करने का प्रयास कर रहे हैं.

राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) ने उत्तर प्रदेश की योगी सरकार को फेल करार दिया है. एनसीपी के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. रमेश दीक्षित ने कहा कि प्रदेश में कानून व्यवस्था नाम की कोई चीज नहीं रह गई है. प्रदेश में स्वास्थ्य और शिक्षा की हालत बिल्कुल बेहाल है.

सोमवार को एनसीपी के दारुलशफा स्थित प्रदेश कार्यालय पर प्रदेश अध्यक्ष का कार्यभार ग्रहण करने बाद रमेश दीक्षित ने कहा कि प्रदेश सरकार का ग्राफ दिनों-दिन नीचे गिरता जा रहा है. कानून व्यवस्था नाम की कोई चीज प्रदेश में नहीं रह गई है.

उन्होंने कार्यकर्ताओं से कहा, “पार्टी के कार्यकर्ता आने वाले दिनों में पूरे प्रदेश में संगठन को मजबूत बनाने के लिए कड़ी मेहनत करें. सरकार की नीतियों के खिलाफ संघर्ष करें. एनसीपी ने हमेशा राष्ट्रवाद की बात की है और किसानों को विकास की मुख्य धारा से जोड़ने का कार्य किया है.”