यूपी के 50% पेट्रोल पंप में चिप, 13 सीज, चिप हटाने पर भी नहीं बच सकते पेट्रोल पंप संचालक

7
SHARE

एसटीएफ ने सोमवार को 5 पट्रोल पंपों पर छापेमारी जिनमे से 3 जगह पेट्रोल चोरी करने वाले रिमोट और चिप मिले। एक में गड़बड़ी पाई गई। घटतौली मिलने वाले 3 पेट्रोल पंप सीज कर दिए गए। वहीं, एक पेट्रोल पंप पर संदिग्ध डिवाइस मिली है, इसके बारे में छानबीन की जा रही है। तीन दिन की छापेमारी में अब तक 13 पेट्रोल पंप सीज किए जा चुके हैं।

सोमवार को छापेमारी में आकाशवाणी के पास स्थित पंप में चिप बरामद हुई। पेट्रोल-डीजल पंप संचालकों अगर अब डिवाइस निकालने की कोशिश करते हैं तब भी पकड़े जाएंगे और नहीं निकाल पाते हैं तो पकड़ा जाना तय है। संयुक्त टीमें दिन रात छापेमारी करने में जुटी हैं। जिनकी पकड़ से बचना नामुमकिन है। आधा दर्जन से अधिक पंपों पर घटतौली पकड़ी और सील कर दिए गए। बांटमाप अधिकारी ऋषि राज मिश्रा ने बताया कि जिसने भी चिप लगाई हुई है वो किसी तरह बच नहीं पाएगा। चिप उखाडऩे में मशीन का सीपीयू गड़बड़ा जाएगा। वहीं अगर वह नहीं निकलवा पता है तो जांच में पकड़ में आ जाएगा।

STF के सूत्रों के मुताबिक पंप में चिप लगाने वाले राजेंद्र ने यह बताया है कि, लखनऊ ही नहीं प्रदेश के 6 हजार पेट्रोल पंप में से करीब 50 प्रतिशत में चिप लगा हुआ है। वहीं, उसने यूपी ही नहीं मध्यप्रदेश के कई पेट्रोल पंप में चिप लगाया है। लखनऊ के करीब 90 प्रतिशत पेट्रोल पंप में चिप लगा हुआ है।

राजेंद्र ने बताया कि पेट्रोल पंप में चिप लगाने का काम अलग-अलग लोग कर रहे हैं। उसने बताया कि वो उसके लगाए हुए चिप को कोई भी निकाल नहीं सकता है। अगर ऐसा किया गया तो मशीन या तो बंद हो जाएगी या फिर उसमें कोई तकनीकी खराबी हो जाएगी। राजेंद्र यूपी के सीतापुर, कानपूर, बरेली, मेरठ, इलाहाबाद, अलीगढ, आगरा एवं नॉएडा के आलावा पूर्वांचल के कई जिलों में चिप लगा चुका है।