बदायूं में भगवा रंग में अांबेडकर की मूर्ति, विरोध के बाद किया नीला रंग

43
SHARE

बदायूं में सरकार ने दलित के भारत बंद के बाद तोड़ी गई अांबेडकर की मूर्ति को फिर से बनवा दिया है. अांबेडकर की नई मूर्ति की पोशाक पर नीले रंग की जगह पर भगवा रंग कर दिये जाने से उपजे विवाद के बाद इसे अब नीले रंग में रंग दिया गया है.

कुंवरगांव थाना क्षेत्र के गांव दुगरैया में स्थित डॉ. अांबेडकर की प्रतिमा 7 अप्रैल को खंडित कर दी गई थी. इसके बाद आगरा से नई मूर्ति लाकर लगाई गई, लेकिन नई मूर्ति की पोशाक भगवा रंग की थी, जिसे लेकर विवाद खड़ा हो गया था.

उपजिलाधिकारी सदर पारसनाथ मौर्य ने बताया कि आगरा में बाबा साहब की जो मूर्ति प्रशासन द्वारा पसंद की गई थी उसकी लम्बाई मात्र साढ़े तीन फुट थी, जिसे लोगों द्वारा नापसंद कर दिया गया था. इसके अतिरिक्त जो मूर्ति थीं वह भी कमेटी के लोगों को पसंद नही आईं. बाद में भगवा रंग की बाबा साहब की पांच फुट की मूर्ति सभी लोगों को पसंद आ गई थी.

भगवा रंग के सवाल पर उपजिलाधिकारी ने कहा कि कमेटी के लोग नीला रंग भी साथ लेकर आए थे, लेकिन बिना रंग बदले ही मूर्ति स्थापित कर दी गई थी. उन्होंने बताया कि अब सभी लोगों से विचार-विमर्श के बाद मूर्ति की पोशाक का रंग पुनः नीला करा दिया गया है.

अंबेडकर सुरक्षा समिति के सदस्य कालीचरण ने बताया कि मूर्ति के रंग को लेकर हम लोग सहमत नहीं थे किन्तु एसडीएम, तहसीलदार पुलिस क्षेत्राधिकारी और बसपा जिलाध्यक्ष ने यह कहकर प्रतिमा लगवा दी कि इसका रंग बदलवा देंगे. भगवा रंग की मूर्ति के चर्चाओं में आने के बाद इस पर पुनः नीला रंग करवा दिया गया है.