राम मंदिर निर्माण के लिए 15 करोड़, मुकुट के लिए 10 लाख रुपए दूंगा- सपा व‍िधायक बुक्कल नवाब

14
SHARE

सपा के व‍िधायक बुक्कल नवाब ने रव‍िवार को लखनऊ में प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, मैं अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए 15 करोड़ रुपए दूंगा। इसके अलावा मुकुट के लिए 10 लाख रुपए अलग से भी देंगे।”

बुक्कल नवाब ने कहा, ”राम मंदिर निर्माण के लिए मैं 15 करोड़ दूंगा। मंदिर अयोध्या में था और वहीं बने तो बेहतर है। भगवान राम अयोध्या में पैदा हुए थे। ऐसे में उनका मंदिर अयोध्या में ही बनना चाहिए। मैं भगवान राम का मंदिर बनने के बाद उनका मुकुट पहनाऊंगा।”

एमएलसी बुक्कल नवाब पर फर्जी तरीके से गोमदी नदी के किनारे की जमीन कब्जा कर 8 करोड़ रुपए मुआवजा लेने का आरोप है। उनके खिलाफ एफआईआर भी दर्ज कराई गई है। आरोप है कि उन्होंने फर्जी कागजात के सहारे मुआवजा लिया है। अब यह रकम वापस करने के लिए उन्हें नोटिस जारी की गई है।

इस बारे में उन्होंने कहा, ”जहां तक गोमती नदी के किनारे की जमीन की बात है वो मेरे र्पूवजों की हैं, क्योंकि हम पहले से बहुत रईस हैं। मेरे पिता पायलट थे। दादा के पास कई सौ बीघा जमीनें थीं, जोकि सीतापुर, लखनऊ, हरदोई आद‍ि जगहों पर थीं। बाढ़ के दौरान अक्सर ये जमीन पानी में डूबी रहीं, जिससे स्थाई कब्जा नहीं हो पाया। मैंने पेपर्स कोर्ट में दिए हैं, जिसका केस चल रहा है। अभी उन्हें सरकार से करीब 30 करोड़ का मुआवजा मिलना है। इस जमीन का इस्तेमाल सरकार ने गोमती रिवरफ्रंट के डेवलपमेंट में किया है, लेकिन अभी तक सरकार ने जमीन का मुआवजा नहीं दिया है।”

उन्होंने कहा, ”जैसे ही सरकार से जमीन का मुआवजा मिलता है वह इस रकम में से 15 करोड़ राम मंदिर के निर्माण के लिए दान कर देंगे। मेरे ऊपर जो आरोप लगे हैं, उसमें मेरा कोई दोष नहीं हैं। मैंने अपने मकान के लिए एलडीए से परमिशन ली थी। आम व्यक्ति को भी अपने एक मकान पर 3 फ्लोर बनाने की परमिशन होती है। हालांक‍ि, मेरे मकान के बाकी के जो 2 मंजिल बने हैं, वो ठेकेदार की गलती से हुई है। मैंने जिस ठेकेदार को मकान बनवाने के लिए ठेका दिया था, उसने निर्माण करवाया है।”