दिल्ली में सोनिया गाँधी के बुलावे पर विपक्ष हुआ इकठ्ठा, विपक्ष की बड़ी पार्टियां हुईं शामिल

12
SHARE

समूचे विपक्ष को कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के शुक्रवार को दोपहर भोज में एकजुटता के प्रदर्शन की आशा है जहां राष्ट्रपति चुनाव के लिए आम सहमति वाले उम्मीदवार पर चर्चा भी होनी है. विपक्ष के शीर्ष नेता संसद परिसर के पुस्तकालय में सोनिया की मेजबानी में आयोजित दोपहर भोज बैठक हुई. यह आयोजन ऐसे दिन हो रहा है जब राजग सरकार केन्द्र में अपनी तीसरी वषर्गांठ मना रही है.
विपक्ष की बैठक खत्म होने के बाद पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि बैठक में सहारनपुर, कश्मीर और ईवीएम मशीन के डेमो के मुद्दे पर बात हुई. बैठक में राष्ट्रपति के नाम पर कोई चर्चा नहीं हुई है. ममता ने कहा कि अगर राष्ट्रपति के उम्मीदवार के लिए किसी नाम पर सहमति नहीं बनती है, तो एक कमेटी का गठन होगा. बैठक के बारे में विपक्ष का सयुंक्त बयान जल्द ही जारी किया जाएगा.बैठक में कांग्रेस, बीएसपी, जेडीएस, राजद, सीपीएम , सीपीआई, आरएसपी, डीएमके, सपा, एनसीपी, टीएमसी, केरल कांग्रेस, जेएमएम और मुस्लिम लीग के नेता शामिल हैं.

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की जगह उनकी पार्टी जदयू का प्रतिनिधित्व शरद यादव करेंगे. सूत्रों ने कहा कि कांग्रेस ने दिल्ली के मुख्यमंत्री और आप नेता अरविंद केजरीवाल को आमंत्रित नहीं किया है.

बसपा नेता मायावती और ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक के उपस्थित होने से जुड़े सवाल पर एक वरिष्ठ नेता ने कहा, ‘‘आप शुक्रवार तक इंतजार कीजिए और देखिए. ज्यादातर विपक्षी नेता बैठक में शामिल होंगे.’’ नेता आगामी राष्ट्रपति चुनाव के लिए संयुक्त उम्मीदवार उतारने की संभावना तलाशेंगे.