उन्नाव रेप केस की जांच के लिए एसआईटी गठित, पीड़िता ने फांसी की मांग की

49
SHARE

उन्नाव रेप केस मामले की जांच के लिए विशेष टीम गठित की गई है. एडीजे लॉ एंड ऑर्डर आनंद कुमार ने कहा कि इस मामले में कार्रवाई की जरूर की जाएगी. वहीं पीड़िता के पिता की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट पर उनका कहना था कि पेट की झिल्ली फटने और गुदाद्वार में चोट के चलते सेप्टीसीमिया और सदमे की वजह से मौत हुई है.

उन्नाव रेप केस मामले में आरोपी बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर के भाई को आज ही गिरफ्तार किया गया है. इससे पहले उसका नाम एफआईआर में नहीं था. वहीं इस मामले में कुलदीप सिंह सेंगर ने कहा है कि उनके ऊपर लगाए जा रहे सारे आरोप निराधार हैं. वहीं एएनआई को दिए एक बयान में उन्होंने पीड़ित परिवार को ‘निम्न स्तर’ का बताया है.

पीड़िता ने अपने परिवार के साथ सीएम योगी आवास के सामने आत्मदाह की कोशिश की थी. इसके बाद यह मीडिया में सुर्खियां बन गया. इसी बीच पीड़िता के पिता की पुलिस हिरासत में मौत हो गई. आरोप है कि विधायक के भाई ने मृतक के साथ मारपीट की थी जिसमें पुलिसकर्मी भी शामिल हैं. फिलहाल 6 पुलिसकर्मियों को सस्पेंड कर दिया है और 4 लोग गिरफ्तार किए गए हैं.

पीड़िता ने कहा है कि विधायक को क्यों नहीं गिरफ्तार किया जा रहा है. उन्होंने जिंदगी बर्बाद कर दी है. मामला अब सुप्रीम कोर्ट पहुंच गया है. वकील एमएल शर्मा की ओर से दी गई याचिका में मामले की जांच सीबीआई से कराने की मांग की गई है.