एयरपोर्ट पर 13 घंटे तक रोके गए निशानेबाज, क्या क्रिकेटर के साथ ऐसा होता- अभिनव बिंद्रा

17
SHARE

दिल्ली के इंदिरा गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर सीमा शुल्क विभाग द्वारा भारतीय निशानेबाजों को 13 घंटे तक रोके रखने पर ओलंपिक में गोल्ड मेडल जीत चुके शूटर अभिनव बिंद्रा ने भारतीय राष्ट्रीय राइफल संघ (एनआरएआई) की जमकर आलोचना की है।

सीमा शुल्क विभाग के अधिकारियों ने भारतीय खिलाड़ियों को उनके हथियारों के कारण रोके रखा। गौरतलब है कि ये निशानेबाज चेक गणराज्य में प्लाजेन ग्रांप्री निशानेबाजी स्पर्धा में हिस्सा लेकर लौट रहे थे, जब उन्हें एयरपोर्ट से बाहर नहीं जाने दिया गया और घंटों रोके रखा गया।

बिंद्रा ने कई ट्वीट्स किए और कहा कि शूटर देश के राजदूत हैं। उन्होंने साथ ही कहा कि भारतीय क्रिकेट खिलाड़ियों के साथ क्या कभी इस तरह का व्यवहार किया जाएगा।

बिंद्रा ने लिखा, ‘आईजीआई एयरपोर्ट पर राष्ट्रीय निशानेबाजी टीम को रोके रखने की खबर सुनकर दुखी हूं। सीमा शुल्क विभाग ने उनकी बंदूकों को उन्हें नहीं दिया।’ उन्होंने लिखा, ‘वो हमारे देश के राजदूत हैं। उनके साथ इस तरह का व्यवहार नहीं होना चाहिए। क्या ऐसा कभी भारतीय क्रिकेट टीम के साथ हो सकता है?’

उन्होंने लिखा, ‘मैंने कुछ खिलाड़ियों से बात की है। राष्ट्रीय महासंघ का इस मामले पर जो रवैया रहा, वो निराशजनक है।’

पूर्व ओलिंपिक महिला निशानेबाज भागवत ने कहा कि इस तरह की घटनाएं नई नहीं हैं। उन्होंने इसके लिए एनआरएई और खिलाड़ियों के बीच संपर्क की कमी को जिम्मेदार ठहाराया है।