शिवपाल सिंह यादव ने बनाई प्रगतिशील समाजवादी पार्टी, चाहते हैं ये चुनाव चिह्न

177
SHARE

समाजवादी पार्टी से अलग समाजवादी सेक्युलर मोर्चा बनाने वाले उत्तर प्रदेश के पूर्व मंत्री शिवपाल सिंह यादव ने चुनाव आयोग में नई पार्टी के लिए आवेदन किया है। शिवपाल सिंह यादव ने अपनी पार्टी का नाम प्रगतिशील समाजवादी पार्टी रखा है और इसी नाम से चुनाव आयोग में रजिस्ट्रेशन भी कराया है। शिवपाल सिंह यादव पहले ही ऐलान कर चुके हैं कि अपनी पार्टी के प्रत्याशियों को 2019 के लोकसभा चुनावों में राज्य की सभी 80 सीटों पर लड़ाएंगे।

शिवपाल सिंह यादव अपनी प्रगतिशील समाजवादी पार्टी में उस चक्र को भी हर हालत में रखना चाहते हैं जो उनके और उनके बड़े भाई मुलायम सिंह यादव के साथ लंबे समय से किसी ना किसी रूप में जुड़ा रहा है चाहे पार्टी का नाम कुछ भी रहा हो। इसीलिए शिवपाल ने चुनाव आयोग से कार, मोटरसाइकिल या चक्र के चुनाव चिह्न की मांग की है। चक्र चुनाव चिह्न 1989 में जनता दल को मिला था पर बाद में जनता दल के कई विभाजन हो जाने पर इसे सीज कर दिया गया था। शिवपाल का कहना है कि उनके सभी प्रत्याशी पार्टी के चुनाव चिह्न पर चुनाव लड़ेंगे।

यूपी में शिवपाल सिंह यादव की नजर समान विचारधारा के लगभग 40 दलों पर है, उनका कहना है कि वे छोटे 40 दल जिन्हें कोई नहीं पूछ रहा है, उन सभी को एकजुट किया जाएगा, वह सभी हमारे साथ जुड़ गए हैं। उन्होंने कहा 2019 के लोकसभा चुनाव सबकुछ तय कर देंगे, प्रदेश संगठन खड़ा किया जा रहा है, सभी शहरों में कमेटियों के पदाधिकारियों को नाम तय कर उन्हें जल्द से जल्द लोकसभा चुनाव का काम सौंपा जाएगा।

शिवपाल सिंह यादव ने कुछ दिनों पहले समाजवादी सेक्युलर मोर्चा बनाया था तो उनसे उनकी सदस्यता को लेकर पूछा गया था तो उन्होंने कहा था कि उन्होंने अभी समाजवादी पार्टी छोड़ी नहीं है। वह फिलहाल जसवंत नगर से समाजवादी पार्टी के विधायक हैं, उनकी अगुवाई में नई पार्टी का रजिस्टर्ड हुई तो अब उनकी सदस्यता पर खतरा हो सकता है।