उद्धव ठाकरे ने गोरखपुर हादसे को बताया ‘सामूहिक बाल हत्या’

114
SHARE

गोरखपुर में 60 बच्चों की मौत पर शिवसेना ने इस हादसे को ‘सामूहिक बालहत्या’ बताया।

शिवसेना ने अपने मुखपत्र ‘सामना’ में नाराजगी जाहिर करते हुए लिखा कि उत्तर प्रदेश में हुआ ये बड़ा हादसा, स्वतंत्रता दिवस का अपमान है। गरीबों के साथ जो हुआ, ये बेहद निंदनीय है, उनकी ‘मन की बात’ को समझने की बजाय, उनकी वेदनाओं की खिल्ली उड़ाई जाती है, आखिर इस हत्याकांड के लिए जिम्मेदार कौन है?

सामना में लिखा गया कि ‘सामूहिक बालहत्या’ के बावजूद अस्पतालों में उन्हें वो सुविधाए नहीं दी गई, जो मिलनी चाहिए। सामना में लिखा गया कि केंद्र में परिवर्तन आने से पहले अच्छे दिन का वादा किया गया, लेकिन अस्पतालों में जो हालात हैं, ये लोगों की बदकिस्मती है। क्योंकि, ऐसी सुविधाओं से यही आंका जा सकता है कि गरीबों के लिए अस्पतालों में अच्छे दिन नहीं आए हैं।

शुक्रवार को गोरखपुर के बाबा राघवदास मेडिकल कॉलेज में ऑक्सीजन की कमी होने की वजह से 32 बच्चों की मौत होने की खबर सामने आई थी। हालांकि इसके बाद मौत का यह आंकड़ा पिछले 7 दिनों में 60 के पार पहुंच चुका बताया जा रहा है।

सीएम योगी खुद तीन दिन पहले ही इस अस्पताल का दौरा कर चुके थे, लेकिन फिर भी वहां इतना बड़ा हादसा हुआ।