यूपी विधानसभा की सुरक्षा बढ़ी, जांच जारी, सीएम ने कहा मामला 22 करोड़ लोगों की सुरक्षा से जुड़ा

102
SHARE

यूपी विधानसभा में विस्फोटक मिलने के बाद पुलिस और प्रशासन चौकन्ना हो गया है। सीएम योगी ने कहा कि यह मामला 22 करोड़ लोगों की सुरक्षा से जुड़ा है। यह सभी सुरक्षा एजेंसियों की जिम्मेदारी है कि जल्द से जल्द कार्रवाई करें। खतरनाक विस्फोटक मिलना बड़ी आतंकवादी साजिश का हिस्सा है। इसका हर हाल में खुलासा होना ही चाहिए। सीएम ने इस मामले की जांच नेशनल इन्वेस्टीगेशन एजेंसी (एनआईए) से कराने की मांग की।

राज्यसभा और लोकसभा में स्पेशल टीम जांच कर रही है। जांच में 7 खोजी कुत्तों को भी लगाया गया है। मीडिया रिपोर्टस के मुताबिक संसद में 60 लोगों की स्पेशल टीम जांच कर रही है। मेडल डिटेक्टर सहित कई इलेक्ट्रानिक गैजेट्स के साथ जांच की जा रही है। सभी सीटों के नीचे तलाशी ली जा रही है।

12 जुलाई को यूपी विधानसभा में पीईटीएन नाम का विस्फोटक मिला था। मिले विस्फोटक की मात्रा 150 ग्राम थी। जिसके बाद सुरक्षा एजेंसियां सतर्क हो गईं थी। यह विस्फोटक समाजवादी पार्टी के विधायक मनोज पांडे की सीट के नीचे मिला था जिसके बाद मनोज ने सीएम योगी से सुरक्षा कड़ी करने की मांग की थी।

15 अगस्त को व‌िधानसभा को उड़ाने की धमकी देने वाले एक संद‌िग्ध को देवर‌िया पुल‌िस ने गुरुवार को ग‌िरफ्तार क‌िया है।