इजरायल के प्रधानमंत्री के भारत दौरे का दूसरे दिन, साइबर सुरक्षा, साइंस और टेक्नॉलजी सहित 9 क्षेत्रों में अहम समझौते

21
SHARE

इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू के भारत में छह दिवसीय दौरे पर आज दूसरे दिन दिल्ली के हैदराबाद हाउस पीएम मोदी के साथ पहुंचे हैं, जहां दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय वार्ता हो रही है। भारत और इजरायल के बीच साइबर सुरक्षा, साइंस और टेक्नॉलजी सहित 9 क्षेत्रों में अहम समझौते हुए।

दिल्ली स्थित हैदराबाद हाउस में चली घंटों बातचीत के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस में इन क्षेत्रों में करार पर साइन किए गए। इस मौके पर पीएम मोदी ने इजरायली पीएम का हिब्रू में स्वागत किया। उन्होंने कहा कि हमारे लिए यह बेदह महत्वपूर्ण पल है, मैं इजरायल के पीएम का उनके भारत दौरे पर फिर से स्वागत करता हूं।

बेंजामिन नेतन्याहू ने कहा कि भारत और इजरायल दोनों ही देश आंतकी हमलों के दर्द को जानते हैं। हमें याद है मुंबई पर आतंकी हमला किया गया। उन्होंने कहा कि भारत दौरे पर आने से पहले मैं और मेरी पत्नी बहुत खुश थे कि हम बॉलीवुड जा रहे हैं। इजरायली पीएम नेतन्याहू ने अपने भाषण में पीएम मोदी की तारीफ की और कहा कि उनका विजन एक दम स्पष्ट है, साथ ही मोदी एक क्रांतिकारी नेता है। भारत में शानदार स्वागत पर नेतन्याहू ने कहा कि ये पूरे इजरायल का सम्मान है। यहूदियों को भारत में भेदभाव का सामना नहीं करना पड़ता।

नेतन्याहू ने कहा कि ​मेरे दोस्त नरेंद्र अगर आप कभी भी मेरे साथ योग की क्लास करना चाहे तो आपका स्वागत है।

पीएम मोदी ने अपने संबोधन की शुरुआत के बाद कुछ पंक्तियां इजरायल की भाषा में भी बोलीं। उन्होंने कहा, ‘दोनों देशों के बीच फिल्म, स्टार्ट अप इंडिया, रक्षा और निवेश को लेकर सहमति बनी है। मैं उम्मीद करता हूं कि आनेवाले समय में दोनों देश मिलकर एक-दूसरे की तरक्की और दोनों देशों की जनता के लिए मिलकर काम कर सकेंगे। यह भी खुशी की बात है कि मेरे मित्र नेतन्याहू ने ऐसे समय में भारत का दौरा किया, जब देश में लोहड़ी, मकर संक्राति, पोंगल और बीहू जैसे त्योहारों का मौसम है। इस दौरान पीएम नेतन्याहू भारत की विविधतापूर्ण संस्कृति का दर्शन कर सकेंगे।’

पीएम मोदी ने यह भी बताया कि दोनों देशों के लोगों को करीब लाने के लिए इजरायल में जल्‍द एक इंडियन कल्चरल सेंटर खुलेगा।

इससे पहले नेतन्याहू को राष्ट्रपति भवन में राष्ट्रपति भवन में गॉर्ड ऑफ ऑनर दिया गया, जहां से वे राजघाट के लिए रवाना हो गए। नेतन्याहू ने यहां महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि अर्पित की और वहां से द्विपक्षीय वार्ता के लिए हैदराबाद हाउस की ओर चल दिए।

गॉर्ड ऑफ ऑनर के दौरान मीडिया से बातचीत में पीएम नेतन्याहू ने कहा कि शांति और खुशहाली के लिए दोनों देशों में साझेदारी होना बेहद अहम है। उन्होंने कहा कि ये दोस्ती दोनों देशों में शांति लाएगी। उन्होंने कहा कि पीएम मोदी के इजरायल दौरे से दोस्ती की शुरुआत हुई है।

इससे पहले रविवार को पीएम मोदी ने पीएम नेतन्याहू को प्रोटोकॉल तोड़कर रिसीव किया और फिर दिल्ली के ऐतिहासिक तीन मूर्ती चौक को ‘हाइफा’ नाम से जोड़कर दोनों देशों के रिश्तों को और मजबूती दी। अब दोनों के नेता सोमवार रात हैदराबाद हाउस में शानदार डिनर करेंगे। नेतन्याहू अपनी भारत यात्रा में अब तक के सबसे बड़े प्रतिनिधिमंडल के साथ पहुंचे हैं। अपनी इस यात्रा के दौरान नेतन्याहू मंगलवार को आगरा में ताजमहल का दीदार करने के बाद अहमदाबाद और मुंबई भी जाएंगे।