सरकार ने दी बड़ी राहत, इन जगहों पर तीन दिन और चलेंगे 500-1000 के नोट

14
SHARE

देश में बड़े नोटों के बंद होने के बाद आम जनता को खासी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। लोगों के पास जरूरी सामान खरीदने के लिए कैश नहीं है। साथ ही बैंक और एटीएम के बाहर लंबी लाइनों ने लोगों की सरदर्दी और बढ़ा रखी है। इसी बीच, लोगों की परेशानी को देखते हुए सरकार ने उन्हें बड़ी राहत देने की कोशिश की है। सरकार ने देशभर के अस्पतालों, पेट्रोल पंप, रेलवे, मेट्रो काउंटर पर 500 और 1000 रुपये के पुराने नोट के भुगतान की समय तीन दिन के लिए और बढ़ा दी है। अब इन जगहों पर लोग 500 और 1000 के नोट का इस्तेमाल 14 नवंबर की मध्यरात्रि तक कर सकेंगे। साथ ही, केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने भी नेशनल हाइवे को टोल फ्री करने की समय सीमा तीन दिन और बढ़ा दी है। देशभर के सभी नेशनल हाइवे अब 14 तारीख की मध्य रात्रि तक टोल फ्री रहेंगे। इससे पहले ये समय सीमा 11 नवंबर की मध्यरात्रि तक ही थी। ‘मेहनत से कमाया पैसा सुरक्षित’ वित्त मंत्रालय ने शुक्रवार को फिर बयान जारी कर कहा कि मेहनतकशों का पैसा सुरक्षित है, घबराने की कोई जरूरत नहीं है। ब़़डे नोट जमा कराने में जल्दबाजी न करें। 2.50 लाख रुपए तक खाते में जमा कराने की आयकर को जानकारी नहीं दी जाएगी। हालांकि अज्ञात लोगों का पैसा जमा कराने से बचें। राहुल गांधी ने लाइन में लगकर बदलवाए 4000 रुपये, PM पर साधा निशाना बैंकों में पर्याप्त करेंसी: रिजर्व बैंक देशभर की बैंकों में लाखों लोगों की कतारों को देखते हुए रिजर्व बैंक ने कहा है कि धीरज रखें, बैंकों में पर्याप्त करेंसी भेज दी गई है। केंद्रीय बैंक ने माना कि एटीएम चालू करने में बैंकों को परेशानी आ रही है। सारे एटीएम चालू होने पर लोगों को बड़ी राहत मिलेगी। एसबीआई में 53 हजार करोड़ जमा, 1500 करोड़ बदले एसबीआई की चेयरपर्सन अरुंधति भट्टाचार्य ने बताया कि 10 नवंबर से लेकर 11 नवंबर दोपहर 2 बजे तक बैंक की शाखाओं में 53 हजार करोड़ रुपए जमा कराए जा चुके थे। वहीं 1500 करोड़ रुपए के नोट बदले गए थे। पिज्जा हट 5 लाख के मुफ्त पिज्जा बांटेगी पिज्जा हट कंपनी ने घोषणा की है कि वह दिल्ली, मुंबई, गुड़गांव, पुणे, बेंगलुरु में 5 लाख रुपए के पिज्जा बैंक शाखाओं में खड़े लोगों व बैंक स्टाफ को मुफ्त बांटेगी।  एटीएम शुक्रवार दोपहर बाद तक देश के अनेक क्षेत्रों में एटीएम चालू नहीं हो सके थे। पैसा निकालने के लिए सुबह से लोग एटीएम के चक्कर खाते रहे, लेकिन उन्हें निराशा हुई। कुछेक बैंकों के एटीएम चालू थे, जहां लंबी कतारें लगी थीं। उधर, बैंकों में दूसरे दिन भी नोट बदलवाने, निकालने और जमा करने वालों की भारी भीड़ लगी रही। एसबीआई देश की सबसे ब़़ड़ी बैंक एसबीआई का कहना है कि एटीएम सेवाएं सामान्य होने में 10 दिन लगेंगे। इनमें से भी अधिकांश में 500 व 1 हजार के नोट ही निकलते हैं, उनमें 100 व 2000 के नोट वितरण की व्यवस्था नहीं है। इसके लिए उनकी बनावट में परिवर्तन करना होगा। एटीएम में यह है परेशानी 1. प्रत्येक एटीएम में चार खाने होते हैं। इनमें 1 हजार, 500 व 100 रपए के नोट रखे जाते थे। 2. अब चूंकि 1 हजार के नए नोट आए नहीं हैं, 500 के नए नोट छोटे व कम वजन के हैं, इसलिए उनके उपयोग में परेशानी आ रही है। 3. फिलहाल सिर्फ 100 के नोट ही एटीएम में भरे जा रहे हैं। उन्हें भी सिर्फ 2 हजार रुपए के भुगतान के अनुकूल बनाना मुश्किल है|