स्लाटर हाउस बन्द करने के बजाय मांस का एक्सपोर्ट बन्द कर दें, गाय ही नहीं भैंस, बकरे, तीतर, बटेर सब के वध पर भी रोक लगे

271
SHARE

समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता और विधायक आजम खान ने एक चैनल से बातचीत में कहा “मुसलमानों से तो वोटिंग राइट्स वापस ले लेने चाहिए. उन्हें चुनाव में खड़े होने का हक भी ना हो. देश की सियासत से उन्हें हटा दिया जाय. यही देश में अमन का उपाय होगा. फिलहाल तो ऐसा माहौल है कि देश की सारी मुश्किलों की वजह मुसलमान हैं. इसे देश के सियासी नक्शे से ही हटा दिया जाये.”

आजम खान ने नदियों में फैलते प्रदूषण के माध्यम से भी अपना दर्द बयां किया. उन्होंने कहा, “मुसलमानों के हक-हुकूक भले काट दिए जाएं पर नस्लें न काटी जाएं. गंगाजमुनी तहजीब का क्या हवाला जब गंगा और यमुना दोनों गन्दी हैं और कोई साफ करने को तैयार नहीं.”

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के अयोध्या दौरे पर अपनी राय व्यक्त करते हुए उन्होंने कहा, “योगीजी धार्मिक आदमी हैं. गोरखपुर के बड़े मंदिर के महंत हैं. उन्हें तो कोई मंदिर छोड़ना ही नहीं चाहिए. हर मंदिर में जाना चाहिए. अयोध्या तो सेंटर है अकीदे का. वहां का तो ऐतिहासिक महत्व है. वहां तो जाना ही चाहिए.”

राज्य में बिगड़ी कानून-व्यवस्था पर बोलते हुए आजम खान ने कहा, “कानून-व्यवस्था का जहां तक सवाल है अराजकता का माहौल है. छूट मिली हुई है. मोदी और योगी ने दो करोड़ रोजगार देने के वायदे पर चुनाव लड़ा. अब रोजगार मिल गया लूटमार का.”

बाबरी मस्जिद मामले पर टिप्पणी करते हुए उन्होंने कहा, “बाबरी मस्जिद में तो बचाने वाला पक्ष नहीं था. सिर्फ ढहाने वाला पक्ष था. उन्होंने बहुत बहादुरी का काम किया. हमारी किस्मत, एक दिन की सजा पाया आदमी (कल्याण सिंह) आज संविधान के रखवाले हैं.”

मांस के कारोबार पर अपनी राय रखते हुए उन्होंने कहा, “स्लाटर हाउस बन्द करने के बजाय मांस का एक्सपोर्ट बन्द कर दें. कारोबार बंद हो जाएगा. गाय ही नहीं भैंस, बकरे, तीतर, बटेर सब के वध पर भी रोक लगे. आदमी काटे जाने पर भी रोक लगे.”