इलाहाबाद यूनिवर्सिटी छात्रसंघ अध्यक्ष पद पर समाजवादी छात्र सभा का कब्जा, अखिलेश यादव ने दी बधाई

75
SHARE

समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने इलाहाबाद विश्वविद्यालय छात्र संघ चुनाव में अपनी पार्टी के छात्र संगठन समाजवादी छात्र सभा की शानदार जीत पर बधाई दी है। इस जीत को उन्होंने युवाओं में समाजवादी मूल्यों में विश्वास की जीत बताया है। इसके साथ उन्होंने इलाहाबाद विश्वविद्यालय में छात्र संघ चुनाव नतीजे आने के बाद हुई तोड़फोड़ की जांच कराने और दोषियों पर कार्रवाई की मांग की है।

बताते चलें कि इलाहाबाद यूनिवर्सिटी छात्र संघ के शुक्रवार को हुए चुनाव में सबसे महत्वपूर्ण समझे जाने वाले अध्यक्ष पद पर समाजवादी पार्टी की छात्र शाखा समाजवादी छात्र सभा के उम्मीदवार उदय प्रकाश यादव ने जीत हासिल की। उदय प्रकाश ने अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के प्रत्याशी अतेंद्र सिंह को हराया। उदय प्रकाश को 3698 वोट मिले जबकि अतेंद्र सिंह 2924 वोटों के साथ दूसरे नंबर पर रहे। संयुक्त सचिव के पद पर 3199 वोट हासिल कर समाजवादी छात्र सभा के सत्यम सिंह सैनी ने जीत दर्ज की

उपाध्यक्ष पद पर एनएसयूआई के अखिलेश यादव विजयी रहे, छात्रसंघ सांस्कृतिक मंत्री का पद भी एनएसयूआई को मिला। एनएसयूआई के आदित्य सिंह ने 1832 वोटों के साथ इस पद पर अपनी जीत दर्ज की।

एबीवीपी को सिर्फ महामंत्री का पद मिला। एबीवीपी के शिवम सिंह ने 2823 मतों के साथ इस पद को हासिल किया। दूसरे स्थान पर राहुल कुमार यादव रहे जिन्हें 2553 वोट मिले। शुक्रवार को ही हुए मतदान के दौरान 19031 मतदाताओं में से 9231 ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। इस तरह कुल 48.5% छात्र छात्राओं ने अपने वोट डाले।
चुनाव नतीजे आने के बाद कुछ हिंसक वारदातें भी हुईं। यूनिवर्सिटी के हॉलैंड हॉल छात्रावास के कई कमरों में आगजनी की गई। इनमें निवर्तमान और अध्यक्ष पद के विजयी प्रत्याशी का कमरा भी शामिल है।समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा है कि जिन लोगों ने अपनी हार से खीझकर तोड़फोड़ करी है, उनके ख़िलाफ़ तुरंत कार्रवाई की जानी चाहिए। उन्होंने एक तस्वीर भी साझा की है जिसमें काफी तोड़फोड़ दिखाई दे रही है।

शनिवार को समाजवादी छात्र सभा के नेताओं की ओर से एबीवीपी के अध्यक्ष पद प्रत्याशी अतेंद्र सिंह समेत 12 नामजद लोगों के खिलाफ कर्नलगंज थाने में मुकदमा दर्ज कराया गया। एसएसपी नितिन तिवारी के मुताबिक तीन आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार भी कर लिया है और उनसे पूछताछ की जा रही है।