सहारनपुर हिंसा: डीएम-एसएसपी निलंबित, कमिश्नर हटाए गए, शब्बीरपुर में नेताओं का प्रवेश प्रतिबंध

24
SHARE

योगी सरकार ने सहारनपुर के डीएम एनपी सिंह व एसएसपी सुभाष दुबे को निलंबित कर दिया है। प्रमोद कुमार पांडेय को डीएम और बबलू कुमार को नया एसएसपी नियुक्त किया है। केएस इमैनुअल को गुरुवार तक डीआइजी पद का कार्यभार ग्रहण करने के निर्देश दिये गए हैं। इसके अलावा सहारनपुर मंडल के कमिश्नर एनपी अग्रवाल को हटा दिया गया है।

पुलिस ने अब तक 25 उपद्रवियों को गिरफ्तार किया। गृह सचिव व एडीजी एलओ ने 48 घंटे में अमन बहाली का दावा किया है। मायावती के बाद अब शब्बीरपुर में नेताओं के प्रवेश पर प्रतिबंध है।

लंबे समय से जातीय हिंसा की आग में जल रहे सहारनपुर के कुछ क्षेत्रों में मंगलवार को नए सिरे से हिंसा भड़क उठी थी। कुछ लोगों को गोली मारी गई। कुछ पर तलवारों से हमला किया गया। आगजनी, उपद्रव को नियंत्रित करने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गृह सचिव मणि प्रसाद मिश्र, एडीजी कानून व्यवस्था आदित्य मिश्र के नेतृत्व में अधिकारियों का दल विशेष विमान से सहारनपुर भेजा था। जिसे ङ्क्षहसा नियंत्रित करने के साथ हालात बिगडऩे के कारणों की पड़ताल और अधिकारियों की जिम्मेदारी तय करने को भी कहा गया था।

बुधवार को गृह सचिव मणि प्रसाद मिश्र ने शासन को प्रारंभिक रिपोर्ट भेजी। जिसके पहले मुख्य सचिव राहुल भटनागर, प्रमुख सचिव गृह अरविंद कुमार, प्रमुख सचिव नियुक्ति कामरान रिजवी व डीजीपी सुलखान सिंह बीच उच्च स्तरीय बैठक हुई। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को मामले की जानकारी दी गई। जिसके बाद वहां तैनात डीएम एनपी सिंह व एसएसपी सुभाष दुबे को निलंबित कर दिया गया।

सहारनपुर के शब्बीरपुर में मायावती के कार्यक्रम के बाद बडग़ांव क्षेत्र दोबारा जातीय हिंसा की जबर्दस्त चपेट में आ गया था। कई गांव हिंसा की लपटों में घिरकर धधक उठे थे। हालात अब भी काबू में नहीं हैं। हिंसा के बाद प्रदेश में हाई अलर्ट घोषित है। जातीय रैलियों, आंदोलन, धरना-प्रदर्शन पर रोक है। हिंसा भड़कने पर सरकार ने मेरठ जोन के एडीजी, मुजफ्फरनगर के एसएसपी को सहारनपुर कैंप करा दिया है। पीएसी और आरएएफ की टुकडिय़ां डेरा डाले हैं।