मुजफ्फरनगर दंगा आजम खां की देन, सहारनपुर दंगा बसपा के दो पूर्व विधायकों की देन: संजीव बालियान

123
SHARE

केन्द्रीय मंत्री संजीव बालियान ने आरोप लगाया है कि सहारनपुर का दंगा बसपा के दो पूर्व विधायकों ने कराया है. दोनों ने सुनियोजित तरीके से दंगा कराने के लिए भीम आर्मी को फंडिंग की.

सर्किट हाउस में पत्रकारों से बातचीत में बालियान ने कहा, ‘मुजफ्फरनगर दंगा सपा सरकार के मंत्री आजम खां की देन थी. सहारनपुर दंगा बसपा के दो पूर्व विधायकों रवींद्र उर्फ भोलू और एमएलसी इकबाल उर्फ बाला की देन है. बसपा के दो पूर्व विधायकों ने पश्चिमी उत्तर प्रदेश को जातीय और सांप्रदायिक संघर्ष की राह पर धकेल दिया है.’ केन्द्रीय जल संसाधन राज्य मंत्री बालियान ने कहा, ‘दंगे की जांच गहन स्तर पर चल रही है.

बसपा के पूर्व विधायक रवींद्र उर्फ भोलू और एमएलसी इकबाल उर्फ बाला नाम लेकर बालियान ने कहा कि बसपा का पूर्व एमएलसी पश्चिमी यूपी का बड़ा खनन माफिया है. वह 10 साल से अवैध खनन का कारोबार कर रहा है. सरकार सबूत इकट्ठा कर रही है. आरोप साबित होने पर दोनों पूर्व विधायकों समेत जो भी दोषी मिलेगा, उनको हर हाल में जेल जाना होगा।

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि सहारनपुर में मायावती को सभा करने की अनुमति देना प्रशासनिक चूक थी. अगर वहां का प्रशासन राहुल गांधी की तरह मायावती को भी जाने से पहले ही रोक लेता तो अब तक स्थिति कंट्रोल हो गई होती। बड़े जातीय संघर्ष के लिए स्थानीय इंटेलीजेंस को जिम्मेदार ठहराते हुए डॉ. बालियान ने कहा कि वह पूरी तरह फेल साबित हुई. इसी वजह से डीएम और एसएसपी को सस्पेंड करना पड़ा.

गंगा सफाई अभियान पर बालियान ने कहा कि गंगा के किनारे जलमल शोधन संयंत्र लगाने की योजना तैयार है. 500 से अधिक कारखानों को नोटिस जारी किए गए हैं जिन्होंने नदी को गंदा किया है. बालियान ने कहा कि केन्द्र में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार के तीन साल पूरे हुए हैं. किसी भी मंत्री पर भ्रष्टाचार के आरोप नहीं हैं.