दहेज उत्पीड़न की रिपोर्ट दर्ज, पति ने जान दी

22
SHARE

दहेज उत्पीड़न का मुकदमा दर्ज होने पर काकोरी के कुसमौरा गांव में अंकुर रावत (25) ने आत्महत्या कर ली। करीब छह माह पूर्व उसका विवाह हुआ था। कुसमौरा गांव निवासी अंकुर मजदूरी करता था। मंगलवार सुबह कमरे में कुंडे से साड़ी के सहारे उसका शव लटका देख उसकी मां रमावती की चीख निकल पड़ी। चीख सुनकर दौड़े परिवारीजनों ने फंदे से शव को उतारा।

पुलिस ने मौके से एक सुसाइड नोट बरामद किया है। जिसमें उसने लिखा कि पत्नी की प्रताड़ना से त्रस्त होकर आत्महत्या कर रहा हूं। इसमें घर वालों का कोई दोष नहीं है। अंकुर की मां ने बताया कि 20 अप्रैल को बेटे की शादी जमाल नगर निवासी राम दुलारी के साथ हुई थी। कुछ दिन पहले राम दुलारी झगड़ा करके मायके चली गई थी।

बेटा उसके बाद भी उसे लेने पहुंचा तो ससुरालीजनों उसे जमकर पीटा। इसके बाद रामदुलारी ने अंकुर, उनके पिता, बहन और बहनोई समेत मेरे खिलाफ दहेज उत्पीड़न मारपीट का मुकदमा दर्ज करा दिया था, जिससे बेटा काफी आहत हुआ।

ससुरालीजन उसे लगातार बेटे समेत पूरे परिवार को जेल भेजवाने की धमकी दे रहे थे। इसी से परेशान होकर बेटे ने आत्महत्या कर ली।

पुलिस ने कहा कि मामले की पड़ताल की जा रही है। परिवारीजन अगर कोई तहरीर देंगे तो मुकदमा दर्ज किया जाएगा।