56 इंच की छाती में किसानों और गरीबों के लिए जगह नहीं

10
SHARE

मंगलवार को दो दिवसीय दौरे पर अमेठी पहुंचे राहुल गांधी ने दौरे के दूसरे दिन उन्होंने कई सड़क परियोजनाओं का शिलान्यास भी किया। कार्यक्रम में बोलते हुए कहा कि यह सरकार रोजगार और किसानों के मुद्दे पर फेल है। प्रदेश की योगी सरकार पर अमेठी के लिए प्रस्तावित प्रोजेक्ट को बंद करने का आरोप लगाते हुए कहा कि सरकार आने पर फूड पार्क और हिंदुस्तान पेपर मिल को फिर से अमेठी में लाया जाएगा।

उन्होंने कहा कि इस वक्त केंद्र में मोदी सरकार और प्रदेश में योगी सरकार है। अमेठी को योगी जी चला रहे हैं, ऐसे में यहां की समस्याओं के लिए योगी जी से सवाल पूछे जाने चाहिए। जब हमारी सरकार आएगी, तब हम जवाब देंगे। देश के सबसे बड़े बैकिंग घोटाले पर पीएम मोदी को घेरते हुए राहुल गांधी ने कहा कि देश में किसके अच्छे दिन आए, ये अब सभी लोग जान चुके हैं। राहुल गांधी ने कहा कि नीरव मोदी और मेहुल चौकसी के पीएम मोदी से अच्छे संबंध हैं, इसलिए उन्हीं के अच्छे दिन भी आए। किसानों और गरीबों के अच्छे दिन लाने का वादा करने वाली सरकार ने सिर्फ अमीरों को अच्छे दिन दिखाए। नोटबंदी के बहाने आपकी जेब से पांच सौ और हजार का नोट छीनकर नीरव मोदी को दे दिए। आज की सरकार गरीब किसानों की मदद नहीं करती, लेकिन 15 सबसे अमीर लोगों का ढाई लाख करोड़ रुपए माफ कर दिया।

राहुल गांधी ने कहा कि पीएम मोदी संसद में खड़े होने से डरते हैं। हमें 15 मिनट बोलने को मिल जाए तो वह सामने टिक नहीं पाएंगे। राफेल मामले में राहुल ने कहा कि एचएएल से प्रोजेक्ट छीनकर 45 हजार करोड़ एक उद्योगपति को दे दिए। बेंगलुरु में लोगों का रोजगार छीन लिया इस सरकार ने। 56 इंच की छाती में गरीबों और किसानों के लिए जगह नहीं।