राहुल गांधी कोई आतंकवादी नहीं, खुलेआम मिलेंगे: हार्दिक पटेल

27
SHARE

हार्दिक पटेल और कांग्रेस प्रेसिडेंट राहुल गांधी की मुलाकात के सवाल पर हार्दिक पटेल ने मंगलवार को कहा, “राहुल गांधी कोई आतंकवादी नहीं हैं कि उनसे छिपकर मिलने जाना पड़े। जब उनसे मिलना होगा तो खुलेआम मिलेंगे।”

पाटीदार नेता हार्दिक पटेल के सहयोगी दिनेश पटेल ने न्यूज एजेंसी से बातचीत में राहुल और हार्दिक की मुलाकात से इनकार कर दिया। दिनेश ने कहा- “हार्दिक और राहुल की अभी मुलाकात नहीं हुई है। राहुल एक से तीन नवंबर के बीच फिर गुजरात आएंगे। तब दोनों नेता मिल सकते हैं।”

हार्दिक ने कहा, “PAAS के कार्यकर्ताओं को खरीदने के लिए गुजरात बीजेपी ने 500 करोड़ का बजट तय किया है। नोटबंदी की बात करने वाले लोगों के पास इतना पैसा कहां से आया। सरकार को इस बारे में स्थिति साफ करनी चाहिए।”

कहा जा रहा है कि अहमदाबाद के ताज होटल में हार्दिक ने राहुल से सीक्रेट मुलाकात की। ये भी कहा गया कि सीसीटीवी फुटेज में हार्दिक पिछले दरवाजे से होटल में जाते नजर आए।

हार्दिक ने कहा, “राहुल से मुलाकात करनी होगी तो खुलेआम करेंगे। मैं गुजरात कांग्रेस प्रभारी अशोक गहलोत के न्योते पर वहां गए थे। गेहलोत से पाटीदार समाज को आरक्षण के मुद्दे पर चर्चा हुई। हम बीजेपी की तानाशाह सरकार को गुजरात से बाहर करेंगे।”

अशोक गेहलोत ने कहा, “राहुल हार्दिक से मिलते हैं या नहीं, इससे बीजेपी को क्या लेनादेना है। BJP अपोजिशन की निगरानी के लिए खुफिया एजेंसियों का गलत इस्तेमाल कर रही है। खामी एजेंसियों की नहीं है, सरकार उन पर प्रेशर बना रही है।”

गुजरात के डिप्टी सीएम नितिन पटेल ने कहा कि चुनाव जीतने के लिए तो कांग्रेस हाफिज सईद जैसे आतंकी से भी हाथ मिलाने से पीछे नहीं हटेगी। पटेल ने ये भी कहा कि विपक्ष सत्ता हासिल करने के लिए समुदायों के बीच खाई बनाने की कोशिश कर रहा है