2019 में मोदी को गुजरात भेजेंगे, रायबरेली में राहुल गांधी

19
SHARE

चौथे चरण के मतदान से पहले आज कांग्रेस के उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने रायबरेली के डलमऊ में एक चुनावी सभा को संबोधित किया| राहुल गांधी ने कहा कि मैं देख रहा हूं कि उत्तर प्रदेश में इन दिनों भारतीय जनता पार्टी के नेता काफी खराब बयान दे रहे हैं। इनकी नेताओं को लेकर जुमलेबाजी काफी तेज हो गई है|

यह लोग मेरे बारे में भी काफी उल्टा सीधा बोलते रहते हैं, लेकिन इनकी बातों से मेरे ऊपर कोई फर्क नही पड़ता है। भाजपा के नेता दूसरे की एकाग्रता भंग करने में माहिर माने जाते हैं। इनमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी शामिल हैं। दूसरों को बातों में उलझाकर यह लोग काम नहीं करने देते हैं, लेकिन मैं इनके जाल में फंस नहीं पा रहा हूं। मैं इनकी बातों को जरा भी गंभीरता से नहीं लेता हूं|

राहुल गांधी ने कहा कि प्रधानमंत्री ने देश में नोटबंदी करने के बाद भी काफी लोगों को परेशान किया। इनकी आदत हो गई है दूसरों को परेशान करने की। गरीब के साथ ही किसान भी काफी परेशान है, यह लोग उनकी परवह न करके अपने दूसरे कामों में लगे हैं। अपना ही धन पाने को लोग लंबी-लंबी लाइनों में लगे रहे। अब तो बच्चा भी नहीं कहेगा की किसी को लाइन में लगाकर भ्रष्टाचार खत्म होगा। दुकानदार कहेगा कि मोदी जी ने नोटबन्दी कर के हमे मार दिया|

सभा में उन्होंने बीजेपी पर निशाना साधा और कहा किसानों के पास पैसे नहीं है, छोटे व्यापारी खत्म हो गए हैं। मोदी सरकार ने इन्हें बर्बाद कर दिया है। राहुल ने कहा कि अगर आप किसानों से पूछेंगे तो वे लोग भी यही कहेंगे। पीएम मोदी पर हमला करते हुए राहुल ने कहा कि पीएम ने अब तक एक भी वादे पूरे नहीं किए जो उन्होंने काशी से किए थे|

मोदी जी ने इस बीच एक लाख 40 करोड़ रूपया 50 अमीर परिवारों को दिया है। वह अपने हर गलत मकसद में सफल हो रहे हैं, लेकिन उनको पता नहीं है कि जनता सब देख रही है। उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव में उनको सारा का सारा हिसाब मिल जाएगा। बेटे (मोदी जी) ने तो अपनी मां (वाराणसी) से भी काफी वादा किया है, लेकिन जब बेटा अपनी मां को दिया वचन पूरा नहीं कर रहा है तो आपका व हमारा कैसे पूरा कर सकता है|

राहुल गांधी ने कहा कि अमेठी -रायबरेली की जनता के साथ मोदी ने सौतेला व्यवहार किया। उन्होंने कहा कि मोदी तो हिन्दुस्तान के पीएम हैं ना, तो वे रायबरेली और अमेठी के लोगों को दुख क्यों पहुंचा रहे हैं। 2019 में मोदी को गुजरात भेजेंगे। अखिलेश सरकार बनते ही युवाओ को लोन बाटेंगे । सरकार बनते ही बनेगा फूडपार्क। रिश्ता काम करने से बनता है|