इलाहाबाद में गैंगरेप की शिकार नाबालिग लड़की ने पुलिस के रवैये से दुखी होकर खुदकुशी की

75
SHARE

इलाहाबाद में गैंगरेप की शिकार नाबालिग लड़की पुलिस के रवैये से दुखी होकर जहर खाकर खुदकुशी कर ली.

इलाहाबाद शहर से करीब 50 किलोमीटर दूर फूलपुर थाना क्षेत्र का है. मिली जानकारी के मुताबिक, आरोपी लगातार पीड़ित परिवार को धमका रहे थे. पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज नहीं किया था. पुलिस उनके खिलाफ कार्रवाई करने के बजाय पीड़ित परिवार पर ही समझौते का दबाव बना रही थी.

लापरवाही की इंतेहा देखिए, गैंगरेप पीड़िता के खुदकुशी करने के बाद अब जाकर पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज किया है. साथ ही पुलिस के आला अधिकारियों ने पीड़ित परिवार पर दबाव बना रहे आरोपी इंस्पेक्टर को सस्पेंड कर दिया है. पुलिस अधिकारी पीड़ित परिवार को न्याय दिलाने का आश्वासन दे रहे हैं.

फूलपुर थाना क्षेत्र निवासी रामप्रसाद घर पर ही चाय-समोसे की दुकान चलाते हैं. उनकी दुकान के सामने ही मोबाइल की एक दुकान है. बीते सोमवार गांव के ही चार लोगों ने रामप्रसाद की बड़ी बेटी (14) को उस वक्त अगवा कर लिया, जब वह घर के बाहर सो रही थी. घर के सामने उसी मोबाइल की उसी दुकान में उसके साथ गैंगरेप किया गया.

बेटी की चीख-पुकार सुनकर रामप्रसाद की आंख खुली. उन्होंने फौरन पुलिस को इसकी सूचना दी. पुलिस ने मौके पर पहुंच तीन आरोपियों को हिरासत में लिया और पीड़िता को उनके चंगुल से आजाद कराया. एक आरोपी पुलिस को चकमा देकर फरार हो गया. फरार आरोपी ही पीड़ित परिजनों को जान से मारने की धमकी देकर केस वापस लेने के लिए दबाव बना रहा था.

परिवार की मानें तो पुलिस भी आरोपियों का साथ देते हुए उनपर समझौते के लिए दबाव बना रही थी.