पीलीभीत में खनन माफिया के हमले में सिपाही घायल

90
SHARE

पीलीभीत में खनन माफिया ने गुरुवार को पुलिस टीम पर ही हमला कर दिया। इसमें सिपाही गंभीर रूप से घायल हो गया, जबकि साथ में मौजूद होमगार्ड सिपाही को पिटता देख भाग निकला। सूचना मिलने पर कोतवाल फोर्स समेत पहुंचे तब तक हमलावर फरार हो गए। पुलिस मुकदमा दर्ज कर आरोपियों की गिरफ्तारी में जुटी है।

कोतवाली की पवन मोबाइल नंबर 4 गुरुवार सुबह चार बजे मोहल्ला डालचंद की ओर गश्त कर रही थी। पवन मोबाइल पर कांस्टेबल अनिल कुमार और होमगार्ड बाबूराम की ड्यूटी थी। जैसे ही दोनों मोहल्ला डालचंद से देवहा नदी के किनारे की ओर बढ़े तभी उनकी नजर फावड़ा लेकर खनन को नदी की ओर जा रहे लोगों पर गई। पुलिसकर्मियों ने उन्हें रोकना चाहा तो उन्होंने लाठी डंडों से हमला बोल दिया। सिपाही को पिटता देख साथ में मौजूद होमगार्ड जान बचाकर भाग निकला।

हमले के दौरान सिपाही को फावड़ा मारकर जान से मारने का प्रयास भी किया गया लेकिन सिपाही ने हाथ से प्रहार को रोक लिया। हमले में सिपाही गंभीर रूप से घायल हो गया। सूचना मिलने पर कोतवाल देशपाल सिंह पुलिस फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे। पुलिस ने खनन माफिया की तलाश में आसपास दबिश भी दी लेकिन सभी फरार हो गए।

पुलिस ने कांस्टेबल अनिल की तहरीर पर 15 लोगों के खिलाफ जानलेवा हमला करने समेत संगीन धाराओं में रिपोर्ट दर्ज कर ली हैं। एसपी देवरंजन वर्मा ने बताया, आरोपी खनन करने जा रहे थे। पुलिसकर्मियों ने रोका तो उनकी पिटाई कर दी। इस मामले में 10 नामजद समेत 15 के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की गई है। आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए दबिश दी जा रही है।