संभल में पिता ने बच्ची की बलि दी

72
SHARE

संभल के चन्दौसी में बीती रात एक पिता ने सवा महीने की अपनी बेटी की बलि दे दी। अपने घर में ही बने मंदिर में उसने बच्ची की गर्दन धड़ से अलग कर दी। वारदात के बाद पिता मौके से भाग निकला। घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस को घर के अंदर से ही गर्दन कटा बच्ची का शव मिला है। संभल के नरौली निवासी कल्याण (38) के दो बेटियां थीं। बड़ी बेटी तीन साल की है। जबकि छोटी बेटी सवा माह पहले ही हुई थी। पता चला है कि कल्याण पर ऊपरी हवा का चक्कर था। जिस पर कस्बे के ही एक तांत्रिक ने उसे बच्ची की बलि देने के लिए कहा था।

आसपास के लोगों ने बताया कि उसे बताया गया था कि बलि देने से उसकी हालत में सुधार हो जाएगा। तांत्रिक के बहकावे में आकर उसने बेटी की बलि दे दी। घटना के बाद मां रानी बेसुध हो गई। कस्बे के लोग पहले घटना को छुपाते रहे। इसी बीच किसी ने पुलिस को जानकारी दे दी। सूचना पर नरौरी चौकी इंचार्ज कुलदीप सिरोही और सीओ सुरेश बाबू यादव मौके पर पहुंचे। कड़ाई से पूछताछ पर लोगों ने घटना बताई। चौकी इंचार्ज ने बताया कि मां रानी कुछ भी बोलने की स्थिति में नहीं है। बलि देने की बात अभी स्पष्ट तौर पर नहीं कह सकते हैं। मौके से बच्ची का गर्दन कटा शव बरामद कर लिया गया है। जिस हथियार से गर्दन काटी गई उसकी तलाश की जा रही है। सीओ ने बताया कि आरोपी पिता की तलाश में पुलिस टीम लगा दी गई थी। आज पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया।