पुलिस का दावा, सहयोगी कलाकार ने ही की थी हरियाणवी गायिका ममता शर्मा की हत्या

27
SHARE

हरियाणवी गायिका ममता शर्मा की हत्या में पुलिस ने गिरफ्तारी करने का दावा किया है. पुलिस का कहना है कि ममता के सहयोगी मोहित (27) ने ही चाकू मारकर हत्या की है और अपने साथी संदीप के साथ मिलकर लाश को ठिकाने लगा दिया.

पुलिस अधिकारी राजेन्द्र सिंह ने इस मामले की तफ्तीश की थी. पुख्ता सबूत मिलने पर ममता शर्मा के सहयोगी मोहित को गिरफ्तार किया. जांच में पाया गया कि मोहित 3 साल से ममता के साथ काम करता था. ममता के सभी कार्यक्रमों में मोहित जाता था. कार्यक्रमों मे आने-जाने के लिए मोहित ही किराये पर गाड़ी लेकर आता था. सख्ती से पुछताछ पर मोहित ने बताया कि वह ज्यादातर अपने पड़ोसी संदीप की गाड़ी को किराये पर लेकर आता था और खुद ही गाड़ी चलाता था. बीते कई दिनों से ममता और उसके बीच अनबन चल रही थी. इसके पीछे संदीप को कम पैसे मिलने की भी बात सामने आई और ममता संदीप के साथ गाली-गलौज भी करती थी.

13 जनवरी को ममता शर्मा का मोहित के पास फोन आया कि 14 जनवरी को गोहाना प्रोग्राम है और सुबह गाड़ी लेकर आ जाना. मोहित 14 जनवरी को अपने पड़ोसी संदीप की गाड़ी ली और उसके साथ कलानौर के लिए रवाना हो गया. रास्ते में उसने संदीप को उतार दिया और ममता को लेने चला गया.

उधर देर हो जाने पर पर ममता और मोहित की फिर कहासुनी हो गई. हालांकि दोनों गाड़ी में सवार होकर गोहाना के लिए रवाना हो गए. रास्ते में कॉलेज मोड़ के पास ममता और मोहित की बीच फिर से कहासुनी हो गई. इस पर ममता ने मोहित का गला पकड़ लिया. इस पर मोहित आपा खो बैठा और उसकी गर्दन पर चाकू से कई वार कर दिए. ममता ने मौके पर ही दम तोड़ दिया. इसके बाद मोहित लाश को लेकर रोहतक की ओर चल पड़ा और रास्ते में संदीप को गाड़ी में बैठा लिया. दोनों ने भाली गांव के चौक से पहले खेतों में ममता शर्मा की लाश को डालकर भाग गए.