पीएम मोदी के स्वागत के लिए तैयार मुरादाबाद

25
SHARE

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज दोपहर में 2:30 बजे मुरादाबाद पहुंचेंगे और 2.35 पर जनसभा स्थल पर पहुंचकर लगभग एक घंटे तक परिवर्तन के लिए विशाल जनसभा को संबोधित करेंगे।देश में नोटबंदी के बाद प्रधानमंत्री की उत्तर प्रदेश में गाजीपुर, आगरा व कुशीनगर के बाद यह चौथी जनसभा होगी। पीतल नगरी में भाजपा को चमकाने के साथ पीएम नरेंद्र मोदी मुरादाबाद मंडल को भी मथेंगे। वह यहां के मुस्लिमों का मन भी टटोलेंगे|

प्रधानमंत्री की सभा पश्चिमी उत्तर के राजनीतिक परिदृश्य के लिहाज से काफी अहम है, इसी कारण भाजपा संगठन के साथ दिग्गजों ने भीड़ जुटाने के लिए पूरी ताकत झोंक दी है। उम्मीद की जा रही है सभा स्थल पर दो से ढाई लाख लोगों का हुजूम होगा।मुरादाबाद मंडल की 25 विधानसभा सीट में भाजपा के पास सिर्फ एक ही विधानसभा क्षेत्र है, बाकी पर सपा समेत अन्य का परचम लहरा रहा है|

जिले में छह विधानसभाओं में भी सपा ही काबिज है। परिवर्तन के मददेनजर प्रधानमंत्री की करिश्माई सभा में मंडल से भीड़ जुटाई जा रही है। पिछले लोकसभा चुनाव में बतौर गुजरात मुख्यमंत्री मोदी ने लाइन पार में सभा की थी। प्रधानमंत्री बनने के बाद नरेंद्र मोदी की मुरादाबाद में यह पहली जनसभा है|

सुरक्षा के लिए एडीजी सुरक्षा भावेश कुमार सिंह ने कमान खुद संभाल ली है। दोपहर बाद तीन घंटे तक एडीजी, कमिश्नर, डीआइजी, डीएम और एसपी सुरक्षा इंतजामों पर मंथन करते रहे। प्रधानमंत्री के साथ 26 लोग मंच साझा करेंगे। हेलीपैड, मंच पर चढऩे के दौरान स्वागत होगा। मंचासीन लोग ही प्रधानमंत्री मोदी का स्वागत कर सकेंगे। मंच एवं डी एरिया को पूरी तरह से फ्रीज कर दिया है। पैरा मिलिट्री फोर्स तैनात है। 12 प्रवेश द्वारों पर सीसीटीवी और डोरफ्रेम मेटल डिटेक्टर लगाये हैं|

प्रधानमंत्री के संबोधन के दौरान वायु सेना का हेलीकॉप्टर एनएसजी कमांडो सहित आकाश से निगरानी करेगा। मंच पर दो पोडियम बनाये हैं। एक पोडियम से मंचासीन अतिथि एवं बुलेटप्रूफ पोडियम से सिर्फ प्रधानमंत्री संबोधित करेंगे। सभास्थल से एक किलोमीटर तक का इलाका सील रहेगा। सत्तर राजपत्रित अधिकारियों के साथ 61 प्रशिक्षु डिप्टी एसपी तैनात किए गए हैं। रैली को देखते हुए सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं, पूरे इलाके को अभेद्य किले में परिवर्तित कर दिया गया है। मोदी के भाषण तक पूरा शहर नो फ्लाइंग जोन में तब्दील कर दिया गया है। एनआईए के साथ ही यूपी एटीएस भी दो दिन से मुरादाबाद में कैंप कर रही है। पीएम के रैली ग्राउंड को 25 सेक्टरों में बांटकर 102 मजिस्ट्रेट और 200 से अधिक वरिष्ठ पुलिस अफसर तैनात किए गए हैं|

नोटबंदी के छठे दिन प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने गाजीपुर में उत्तर प्रदेश की पहली परिवर्तन रैली को संबोधित किया था। तब उनके एक-एक इशारे पर भीड़ का उत्साह देखने लायक था। 14 नवंबर को गाजीपुर में रैली के बाद मोदी ने 20 नवंबर को आगरा में दूसरी परिवर्तन रैली की। आगरा में भी गाजीपुर का सिलसिला बना रहा और 27 नवंबर को कुशीनगर में इसे और विस्तार मिला। कुशीनगर में उप्र की तीसरी परिवर्तन रैली में भाजपा इस बात से आश्वस्त हो गयी कि नोटबंदी पर जनता का समर्थन मोदी के ही साथ है। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य कहते हैं कि ‘हमारी रैलियों की भीड़ ने तो साबित किया ही, राजधानी में समाजवादी पार्टी की साझेदारी में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री की प्रायोजित सभा में तीन-चार सौ लोगों के आने से यह साबित हो गया कि अब उत्तर प्रदेश की जनता परिवर्तन चाहती है। उप्र की जनता की एकमात्र पसंद भाजपा है|

रैली में रामपुर, अमरोहा, संभल और बिजनौर समेत आसपास के क्षेत्रों के करीब दो लाख लोगों को आने की संभावना है। हालांकि, बीजेपी नेताओं का दावा है कि करीब 3 लाख लोग इस रैली में शामिल होंगे। रैली को प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य, पार्टी उपाध्यक्ष तथा प्रदेश प्रभारी ओम माथुर भी संबोधित करेंगे|